क्राइम डेस्क,  कानपुर
यूपी के उन्नाव जिले में शहर कोतवाली के एक गांव में बेटे से अवैध संबंधों के शक में युवती को पीटने और जलाने की घटना में पुलिस ने नामित पड़ोसन व उसकी बेटी और बेटे को देर रात गिरफ्तार कर लिया। झुलसी युवती की कानपुर के हैलट में इलाज के दौरान बुधवार शाम को मौत हो गई। कोतवाली पुलिस ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर मुकदमे में धारा बदलने की बात कही है। पुलिस ने तीनों आरोपियों को जेल भेज दिया है। बुधवार सुबह पुलिस ने फिर घटना स्थल का निरीक्षण किया।
शहर कोतवाली के एक गांव में मंगलवार रात एक युवती को पड़ोस में रहने वाली रीता ने बेटे अंशू व बेटी सरिता के साथ मिलकर उसके घर में घुसकर मारापीटा और केरोसिन डालकर जला दिया था। महिला को शक था कि युवती के उसके बड़े बेटे होरीलाल से अवैध संबंध हैं। पीड़ित युवती के पिता की तहरीर पर पुलिस ने पड़ोसन और उसकी बेटी व बेटे के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। कोतवाल अरुण द्विवेदी ने बताया कि हैलट में पीड़िता की मौत हो गई है। आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।
घटना के बाद घर में मौजूद मिले आरोपी, डेढ़ महीने से नहीं हो रही थी बातचीत
युवती को जलाने के बाद तीनों आरोपी घर पर ही थे। जबकि जिस होरीलाल से अवैध संबंध बताए जा रहे हैं वह घटना के बाद से घर नहीं पहुंचा है। सूत्रों के मुताबिक पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि तीनों आरोपियों ने पुलिस की नजर में खुद को बेकसूर साबित करने के लिए घर में मौजूद रहे या फिर घटना में उनका हाथ नहीं है। होरीलाल का कहना है युवती को उसके परिवार ने नहीं जलाया है। आरोप गलत है।
होरीलाल ने बताया कि उसका युवती से प्रेम संबंध है। लेकिन करीब डेढ़ महीने बंद कर दिया था मंगलवार को युवती के परिवार में ही कुछ विवाद हुआ था