क्राइम डेस्क,  कानपुर 
यूपी के फतेहपुर जिले में  कोर्ट में पेशी पर आए दुष्कर्म के आरोपी ने शनिवार की दोपहर सिपाही की आंख में मिर्च झोंककर भागने की कोशिश की। शोर मचाते हुए सिपाही ने उसका पीछा किया तो रास्ते में खड़े पूर्व ब्लॉक प्रमुख ने बंदी को पैर अड़ाकर गिरा दिया, जिसे पीछा कर रहे सिपाही ने दबोच लिया। सिपाही ने आरोपी के खिलाफ हिरासत से भागने की एफआईआर दर्ज कराई है।
खागा कोतवाली क्षेत्र के कस्बा निवासी आशीष कुमार द्विवेदी पुत्र प्रमोद कुमार दुष्कर्म के मामले में आरोपी है। बीती 18 नवंबर 2017 से वह जेल में है। शनिवार को पाक्सो कोर्ट में पेशी के लिए उसे जेल से कचहरी लाया गया था। कांस्टेबल आनंद सिंह यादव कोर्ट से पेशी कराकर वापस उसे लॉकअप ले जा रहा था। इस बीच आरोपी ने जेब में रखी लाल मिर्च पाउडर निकालकर सिपाही की आंखों में झाेंक दिया
सिपाही चकराकर गिर पड़ा , पूर्व ब्लाक प्रमुख कार का गेट खोल रहे थे।
इससे सिपाही चकराकर गिर पड़ा और शोर मचाते हुए उठकर आशीष का पीछा किया। कचहरी के छोटे वाले गेट के पास पूर्व ब्लॉक प्रमुख व एडवोकेट विपिन कुमार सिंह यादव कार का गेट खोल रहे थे। उन्होंने सिपाही को एक युवक का पीछा करते देखा। सिपाही द्वारा भाग रहे युवक को पकड़े जाने की गुहार सुनकर उन्होंने भाग रहे आशीष को पैर अड़ाकर गिरा दिया और पीछा कर रहे सिपाही ने आशीष को दबोच लिया।
इस बीच वहां भीड़ लग गई। कचहरी में मौजूद अन्य सिपाही भी वहां पहुंच गए। आशीष को लॉकअप में पहुंचाया गया। सूचना पर सीओ लाइन रामप्रकाश पहुंचे।