चंदू शर्मा
सुरत. शहर के नवागाम फ्लाईओवर पर रविवार रात एक तेज रफ्तार एसयूवी ने तीन मोटरसाइकलों को टक्कर मार दी। हादसे में तीन की मौत हो गई। इस दौरान पुल से गिरती एक मां ने अपने छह महीने के बच्चे को दूसरी महिला की तरफ उछाल दिया। इससे बच्चा अप्रत्याशित रूप से बच गया।
रॉन्ग साइड से आ रही तेज रफ्तार एसयूवी पजेरो को देखकर एक बाइक सवार दंपती रोहित और लक्ष्मी ने गाड़ी रेलिंग की ओर मोड़ दी। इससे दोनों बच गए और संभलकर वहीं खड़े हो गए। उनके पीछे चल रहीं मोटरसाइकलें पजेरो की चपेट में आ गईं। इनमें से एक बाइक पर एक पति-पत्नी, उनका 6 महीने का बेटा और करीब 8-9 साल की बेटी बैठी थी। टक्कर की वजह से वे ब्रिज से नीचे गिरने लगे। तभी महिला ने गिरते वक्त रोहित और लक्ष्मी को देख लिया। 6 महीने के बेटे को बचाने के लिए उसने फौरन उसे हवा में उछाल दिया। लक्ष्मी ने उसे झटके में लपक लिया। इससे बच्चे की जान बच गई।
बच्चा तो बच गया लेकिन उसके माता-पिता उछलकर ब्रिज से 30 फीट नीचे जा गिरे। दोनों की मौत हाे गई। बच्चे की बहन की ब्रिज पर ही मौत हो गई। टक्कर मारने के बाद पजेरो में सवार तीन लोग उतरकर भाग गए। तीनाें अलग-अलग दिशा में भागे। देर रात तक पजेरो के मालिक का पता नहीं चल सका। चश्मदीदों के अनुसार पजेरो चलाने वाला नशे में था। हादसे में दो लोग जख्मी भी हुए हैं।