नई दिल्ली। टेलीकॉम सेक्टर की मुसीबतें कम होने का नाम नहींं ले रही है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, 2017 में इस सेक्टर में 40 हजार लोगों की नौकरी गई है और अगले 6 महीने में 50 हजार और नौकरियां जाने की आशंका भी जताई गई है। बढ़ती प्रतिस्पर्धा के कारण इस सेक्टर में मुनाफा लगातार कम हो रहा है। 2016 में मुकेश अंबानी की अगुआई में रिलायंस जियो की लांचिंग के बाद से कंपनियों को चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। जियो के आने बाद डाटा और कॉलिंग की दरों में अप्रत्याशित रूप से कमी आई है।

सीआईईएल एचआर सर्विसेज की रिपोर्ट में कहा गया है कि प्रतिस्पर्धा बढ़ने और कम मार्जिन के चलते इस क्षेत्र के लाभ पर असर पड़ा है। इस कारण से बड़े पैमाने पर छंटनी भी हुई है। साथ ही नौकरी का परिदृश्य बी अनिश्चितता में है।

यह रिपोर्ट टेलिकॉम कंपनियों के लिए टेलको, सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर सेवा उपलब्ध कराने वाली 65 कंपनियों के 100 वरिष्ठ और मध्यम वर्गीय कर्मचारियों के बीच हुए सर्वे पर आधारित है। रिपोर्ट के अनुसार, बीते वर्ष से इस क्षेत्र में करीब 40,000 लोगों की नौकरी पहले ही जा चुकी और आगामी छह महीने में भी यह ट्रेंड जारी रहेगा। नौकरी गंवाने वालों की कुल संख्या 80 हजार से 90 हजार तक पहुंच सकती है।

रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि अन्य क्षेत्रों की तुलना वेतन वृद्धि मंद है। करीब 69 फीसद कर्मचारियों को सात फीसद सैलरी में वृद्धि मिली, जबकि एक तिहाई को पांच फीसद से कम वृद्धि हुई। रिपोर्ट के अनुसार नौकरी गंवाने वाले अधिकतर लोग अन्य क्षेत्र में नौकरी तलाश रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here