हेमाराम गोदारा जयपुर|(मयंक जोशी)
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के निदेशक डा. समित शर्मा ने जिला अधिकारियों को निर्देश दिये कि स्वयं अधिकारी छात्रावासों में रात्रि विश्राम कर व्यवस्थाओं का जायजा लेवे तथा बुनियादी सुविधाओं में जो भी कमी मिले उसे तत्काल दूर कर बच्चों को घर जैसा महौल्ल पैदा करें।
डा. समित शर्मा शुक्रवार को अम्बेडकर भवन सभागार में वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में जिला अधिकारियों को छात्रावास व्यवस्थाओं को सुधारने, भवन सुधारों अभियान, ग्राम स्वराज अभियान लम्बित छात्रवृत्ति भुगतान, न्याय आपके द्वार, छात्रावासों में ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया एवं छात्रावासों में बायोमैट्रिक उपस्थित के संबंध में जिला अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देशा दिये।
उन्होंने कहा कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के छात्रावास फेस होते है इसलिए छात्रावासों में कमियों को ठीक कराये।
उन्होंने निर्देश दिये कि विभाग द्वारा पहली बार शिक्षा सत्र शुरू होने के साथ ही छात्रावासों में प्रवेश प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है। इसलिए इस वर्ष सभी छात्रावासों में शत प्रतिशत प्रवेश हो सुनिश्चित किया जाये।
निदेशक ने निर्देश दिये कि न्याय आपके द्वार के तहत लम्बित पेंशन प्रकरणों का निस्तारण करने के साथ पात्र लोगों को विभाग की योजनाओं का लाभ दिलाने का प्रयास करें।
इस अवसर पर विशेष योग्यजन निदेशक श्रीमती अनुपमा जोरवाल, अतिरिक्त निदेशक श्री राजेन्द्र किशन, वित्तीय सलाहकार श्री बृजेश शर्मा, अतिरिक्त निदेशक (देवनारायण) श्री डालचन्द वर्मा, श्री आशोक जागिंड सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here