हरेंद्र यादव (कुशीनगर)

दूसरे को सुरक्षा एवं शांतिपूर्ण माहौल को कायम रखने वाले पुलिस कर्मी एक दिन की छुट्टी के लिए भी परेशान दिखाई दे रहे है वही 100 नम्बर हो या थाने के पुलिसकर्मी हैरान एवं परेशान दिखाई दे रहे है।
उल्लेखनीय है कि सबको सुरक्षा प्रदान करने वाले पुलिसकर्मी अपने परिवार और रिस्तेदारो से मिलने के लिए छुट्टी को तरस रहे है ताकि एक दिन के लिये परिवार में जाकर तनावपूर्ण जीवन व्यततीत कर सके और उनके भी सुख दुख में भागीदारी कर सके वही हर विभाग में नियम के अनुसार एक दिन की साप्ताहिक अवकाश के साथ साथ अनेक छुटियां मिलती है और आठ घंटे काम लिया जाता है परंतु वही पुलिस कर्मियों को आठ घंटे के बजाय चौबीस घंटे काम करना पड़ता है जिसको लेकर पुलिसकर्मी हर समय मे तनावपूर्ण जीवन व्यतीत कर रहे है।
प्रदेश के मुखिया द्वारा पुलिसकर्मियों को राहत के नाम पर दस दिन पर छुट्टी देने का फरमान जारी किया गया लेकिन यह कहा तक सही साबित होता है ये तो आने वाला वक्त ही बतायेगा वही उक्त मामले को लेकर जब पुलिसकर्मियों से बात की गई तो उनका दर्द चेहरे पर झलक आया पुलिसकर्मियों ने आप बीती बताते हुए कहा कि चाह कर भी अगर कोई परिवार में कोई बीमार हो या रिस्तेदारी में कोई घटना हो जाये मौके पर पहुचना बहुत ही मुश्किल होता है वही जब अधिकारियो से छुट्टी की बात की जाती है तो तरह तरह के बहाने बनाये जाते है और चाह कर भी हम लाचार हो जाते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here