कानपुर।ऊपरी कमाई के चक्कर में तरह-तरह के खेल में जुटे केडीए के अधिकारियों-कर्मचारियों का नया कारनामा सामने आया है। कानपुर के इंदिरा नगर स्थित जमीन लिए बिना ही इसके मालिक से मिलीभगत कर केडीए के 12 कर्मचारियों-अभियंताओं ने 72 करोड़ रुपये का मुआवजा दिलाने का षड्यंत्र रचा।
-अभियंताओं ने केडीए की ओर से जमीन लिए जाने का शपथपत्र भी कोर्ट में जमा कर दिया। कोर्ट ने इसके आधार पर केडीए को मुआवजा देने का आदेश कर दिया।
केडीए वीसी किंजल सिंह ने जमीन लिए जाने और मौके की स्थिति की जांच कराई तो मामले का खुलासा हुआ। पांच कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया है। सात के खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू हो गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here