कानपुर
घाटमपुर।कस्बे में नवरात्र के दूसरे दिन माता ब्रह्मचारिणी देवी की पूजा-अर्चना के लिए मंदिरों में श्रद्धालुओं की भारी संख्या में भीड़ सुबह तड़के से ही लगनी शुरू हो गई थी। कस्बे में स्थित माता कुष्मांडा देवी मंदिर में श्रद्धालुओं की भारी संख्या भी देखने को मिली। भारी भरकम भीड़ के बीच मंदिर परिसर के आसपास सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था थी। घरों में भी मंत्रोच्चार के बीच स्थापित कलश में भी पूजा अर्चना की गई।देवी भगवती के नव स्वरूपों में अलग अलग मंदिर है जहां नवरात्री के प्रथम दिन से लेकर नवमी तक जगदम्बा के विभिन्न स्वरूपों के दर्शन की मान्यता है। नवरात्र का पर्व शुरू होते ही नौ दिनों में देवी पूजा का विशेष महत्व है। देर रात से ही माता का दर्शन करने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ मां के दरबार में उमड़ी थी। भोर में मंदिरों का कपाट खुलते ही श्रद्धालु दर्शन के लिए उमड़ पड़े। नगर के कुष्मांडा देवी मंदिर पर माता की प्रतिमा को फूल से भव्य रूप से सजाया गया था। दर्शन करके जाने और लौटने वाले श्रद्धालुओं में श्रद्धा और भक्ति का अटूट विश्वास झलक रहा था। श्रद्धालु द्वारा माता के दरबार में नारियल, चुनरी, पुष्प, चढ़ाया और पूजन अर्चन कर माथा टेका। कस्बे में स्थित कुष्मांडा देवी मंदिर में दिन भर में हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने माता के दर्शन प्राप्त किए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here