इंदौर. देश में सफाई में नंबर वन बनने के बाद अब इंदौर औद्योगिक क्षेत्रों में भी देश में अव्वल आया है। केंद्रीय कॉमर्स व इंडस्ट्री मंत्रालय के इंडस्ट्रियल पॉलिसी एंड प्रमोशन डिपार्टमेंट (डीआईपीपी) द्वारा देशभर के इंडस्ट्रियल पार्क की पहली बार की गई रैंकिंग में पीथमपुर को इंटरनल इंफ्रास्ट्रक्चर व यूटिलिटी कैटेगरी में देश में नंबर वन इंडस्ट्रियल पार्क (एरिया) घोषित किया गया है।

पीथमपुर को यह अवाॅर्ड देश के 21 राज्यों के 200 से ज्यादा इंडस्ट्रियल पार्क में से मिला है। सर्वे में पाया गया कि पीथमपुर में इंफ्रास्ट्रक्चर और सुविधाएं सबसे बेहतर स्थिति में हैं। वहीं इसी कैटेगरी में भोपाल के मंडीदीप को दसवां स्थान मिला है।

 

बाटवा (अहमदाबाद) दूसरे स्थान पर और तिरूवनंतपुरम का एपरल पार्क तीसरे स्थान पर आया है। एक अन्य कैटेगरी इंवायरनमेंट व सेफ्टी मेजरमेंट में भी पीथमपुर के सेज को देश में छठा बेहतर इंडस्ट्रियल पार्क माना गया है।
रैंकिंग के पीछे मंशा केंद्र की यह रैंकिंग अब हर साल जारी होगी। इसके पीछे केंद्र की मंशा है कि हर राज्य में शासन स्तर पर विकसित हो रहे इन पार्कों के बीच बेहतर होने की प्रतिस्पर्धा हो और निवेशकों को भी इसकी जानकारी हो कि कौन सा पार्क कहां पर है।

 

शासन ने भेजी थे एकेवीएन इंदौर, भोपाल के नाम केंद्र के इस सर्वे की प्रक्रिया जून 2018 में ही शुरू हो गई थी। हर राज्य से शासन स्तर पर उनके औद्योगिक पार्कों की 50 से अधिक बिंदुओं पर जानकारी मांगी गई थी, इसमें उन्हें काम के सबूत के तौर पर फोटो व अन्य जानकारी देना थी। मप्र शासन ने इंदौर एकेवीएन, भोपाल एकेवीएन के द्वारा विकसित विविध नौ पार्कों की जानकारी केंद्र स्तर पर भेजी थी।

 

बाद में केंद्र की टीम ने अपने स्तर पर देश भर से आए पार्कों की सूची के आधार पर सर्वे किया, उद्योगपतियों से बात की और फिर इसके आधार पर यह रैंकिंग जारी की है। मप्र और इंदौर को लाभ मप्र में इंदौर और इसके आसपास के औद्योगिक एरिया निवेश के लिए पहली पसंद रहे हैं, ग्लोबल समिट में होने वाले निवेश करार में से 40 फीसदी करीब इंदौर के लिए ही होते हैं। इस रैंकिंग से देश के साथ ही विदेशों में भी पीथमपुर व एकेवीएन इंदौर का नाम होगा, जिसका असर यहां आने वाले निवेश के तौर पर भी दिखेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here