आनंद व्यास गुना

राघौगढ़ थाना क्षेत्र के जंजाली चोकी के गोविंदपुरा निवासी किसान नंदलाल मीना की श्याम मीना ने हत्या कर दी थी। वह 17 से 18 घंटे तक आसपास क्षेत्र में ही घूमता रहा, लेकिन पुलिस उसे पकड़ न सकी। आरोपी ने किसान की जीप से कुचलकर हत्या करने के बाद कई लोगों को कॉल किए। वह यह पता करता रहा कि क्या चल रहा है। उसने वारदात के 12 घंटे बाद एक ढाबा संचालक को कॉल कर पूछा कि नंदराम का क्या हुआ? उसने कहा कि तूने गलत किया है तो बोला मैं और क्या करता? मरने की खबर पर बोला चलो ठीक है। किसान को घर से बुलाकर उसकी हत्या करने वाले व्यक्ति को कोई पछतावा नहीं है। वह वारदात के बाद से ही खुला घूमता रहा। गांव एवं आसपास के लोगों से भी मोबाइल पर चर्चा की। इस दौरान आरोपी ने ढाबा संचालक से भी बात कर पूछा कि क्या हाल हैं तो ढाबा संचालक ने कहा नंदराम मर गया। इसके बाद वह बोला चलो ठीक है। इस मामले में बड़ी बात ये है कि आरोपी ने सरेआम हत्या की। इसके बाद भी पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया। जब रिश्तेदार से हुई आरोपी की बातचीत की ऑडियो वायरल की तब 17 घंटे बाद मामला दर्ज किया गया। अब आरोपी फरार है। मृतक के भाई रमेशचंद्र ने बताया कि दो साल पहले आरोपी ने 50 हजार रुपए उधार लिए थे। इसी बात को लेकर मंगलवार को आरोपी ने नंदलाल को सुंदरखेड़ी के रास्ते पर बुलाया। विवाद में सूचना पर वह मौके पर पहुंचे। नंदलाल के सिर से खून बह रहा था, उसे अस्पताल ले जाने के लिए जैसे ही खड़ा किया तो आरोपी ने जीप से कुचल दिया। उसे अस्पताल लेकर आए तो रास्ते में ही मौत हो गई। आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कराने के लिए मृतक के भाई दो बार चौकी जंजाली गया, लेकिन पुलिस ने अनसुना कर दिया। मंगलवार रात और बुधवार दोपहर एफआईआर दर्ज कराने पहुंचे तो भगा दिया। इसके बाद एसपी निमिष अग्रवाल को ऑडियो सुनाई, उन्होंने आरोपी पर प्रकरण दर्ज करवाया। मृतक के भाई रमेशचंद्र का कहना है कि आरोपी श्याम मीना चांचौड़ा के ऊपरी गांव का निवासी है। इस गांव में हमारे मामा रहते हैं। इस वजह से वह अक्सर गोविंदपुरा आया-जाया करता था। उस पर भरोसा किया, छोटे भाई नंदलाल ने 50 हजार रुपए उधार दे दिए। इसके बाद से ही आरोपी की नियत बिगड़ी और पैसे नहीं दिए। इसी लेनदेन को लेकर हत्या की गई। युवक को परिजन इलाज कराने जिला अस्पताल ले गए थे, वहां मौत के बाद मर्ग कायम हुआ था। इसकी डायरी हमारे पास देर से आई, तभी कार्रवाई की गई है। -जयनारायण शर्मा, चौकी प्रभारी जंजाली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here