राजेश कुमार यादव
वाराणसी। नगर के भेलूपुर थाना क्षेत्र के दुर्गाकुंड पुलिस चौकी पर उस समय उहापोह की स्थिति उत्पन्न हो गई, जब एक तथाकथित अधिवक्ता के साथ आये उसके सहयोगी ने एक पत्रकार को गोली मारने की बात कह डाली।
बताया जाता है कि मुगलसराय से प्रकाशित व प्रसारित होने वाले समाचार पत्र के संस्थापक के द्वारा दुर्गाकुंड पुलिस चौकी क्षेत्र के निवासी एजाज अहमद से एक कार खरीदे थे। जो कि गाड़ी बेचने वाले एजाज के नाम से रजिस्टर्ड नही था। जिस पर बार बार लगातार लगभग 3 माह से एजाज से गाड़ी ट्रांसफर करने की बात कही जा रही थी जिस पर एजाज के द्वारा बार बार सिर्फ समय ही दिया जा रहा था। जिस पर समाचार पत्र के संस्थापक के द्वारा लिखित प्रार्थना पत्र दुर्गाकुंड पुलिस चौकी इंचार्ज को दिया गया। जहां चौकी इंचार्ज के द्वारा दोनों पक्षो को चौकी पर बुलाकर बात चीत के माध्यम से शांतिपूर्ण तरीके से दोनों पक्षो की सहमति से लिखा पढ़ी के माध्यम से मामले का निपटारा कर दिया गया।
वहीं विपक्षी एजाज के साथ आये अपने आप को अधिवक्ता बताने वाले व्यक्ति व उसके सहयोगी के द्वारा समाचार पत्र से आये पत्रकार शशिकांत सिंह के साथ पुलिस चौकी के बाहर बदसलूकी करते हुए गोली मारने तक की धमकी दे डाली गई। जब इस बात की जानकारी वहां मौजूद अन्य पत्रकारों को हुआ तो सभी ने एक स्वर से तथाकथित अधिवक्ता व उसके सहयोगी का प्रबल विरोध किया। जिस पर मामला चौकी प्रभारी के संज्ञान में आने पर उनके द्वारा दोनों का नाम व पता दर्ज किया गया तथा जमकर लताड़ लगाई गई और वहीं मौजूद अन्य पत्रकारों के द्वारा तथाकथित अधिवक्ता से उनकी वकालत के बारे में पूछा गया तो उसने बताया कि उसके द्वारा सिर्फ वकालत की पढ़ाई की गई है वो कहीं प्रैक्टिस नही करता, और दोनों व्यक्ति मौके का फायदा उठाते हुए फरार हो गए।
वहीं स्थानीय लोगो के द्वारा बताया गया कि ये दोनों दिन रात इसी चौकी के पास भटकते रहते है और अनायास ही आम लोगो से उलझ कर अपने वकालत व गुंडई के बल पर धन उगाही का कार्य करते है।
नोट – तथाकथित अधिवक्ता व उसके सहयोगी का वीडियो जरूर देखें और पहचाने।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here