बिजनेस डेस्कः पैट्रोल-डीजल की लगातार बढ़ती कीमतें आमजन की जेब पर असर डाल सकती हैं। रोजाना इस्तेमाल होने वाली कई जरूरत की चीजों की कीमतें जल्द ही  बढ़ने जा रही हैं। इनमें साबुन, डिटरजेंट, त्वचा की देखभाल वाली चीजें, बिस्कुट, हेयर ऑयल, टूथपेस्ट व एयरफ्रेशनर्स जैसे आइटम शामिल हैं। सब्जियों की कीमतों पर भी असर दिखने लगा है। कुछ कंपनियों ने तो कई चीजों की कीमतों में इजाफा भी कर दिया है।

PunjabKesari

इन कंपनियों ने बढ़ाए दाम
विशेषज्ञों के मुताबिक सितंबर माह के दूसरे सप्ताह से इन आइटम के खुदरा दाम में 5-8 फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है। जो सामान 100 रुपए में मिल रहे हैं, वे अगले सप्ताह से 105 से 108 रुपए तक में मिलेंगे। डॉलर के मुकाबले रुपए में लगातार आने वाली गिरावट से सरकार को पेट्रोल-डीजल के आयात के लिए अधिक कीमत देनी पड़ रही है। कंज्यूमर गुड्स सेक्टर की दिग्गज कंपनी हिंदुस्तान यूनिलीवर ने डिटर्जेंट्स, स्किन केयर और कुछ चुनिंदा साबुन ब्रांड्स की कीमतों में पिछले महीने 5 से 7 फीसदी की बढ़ोतरी की है। पैराशूट और मैरिको ने हेयर ऑयल पोर्टफोलियो में 7 फीसदी की बढ़ोतरी की है, जबकि ओरल केयर फर्म कोलगेट पामोलिव ने कुछ ब्रांड्स के दाम पिछले महीने 4 फीसदी तक बढ़ाए थे।

PunjabKesari

सब्जी-फल भी महंगे
डीजल के दाम बढ़ने से सब्जी व फल भी महंगे हो रहे हैं। सब्जी व फल की ढुलाई में डीजल से चलने वाले वाहनों का इस्तेमाल होता है। आजादपुर मंडी के एक व्यापारी ने बताया कि महाराष्ट्र से आने वाले प्याज की एक बोरी की ढुलाई की लागत पहले लगभग 60 रुपए होती थी जो बढ़कर 64-65 रुपए हो गई है। इसकी वसूली आम उपभोक्ता से ही की जाएगी।

PunjabKesari

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here