दीपक तिवारी

सुरक्षा के कड़े इंतजाम, स्वागत के लिए शहर को सजाया गया

रीवा। कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी के स्वागत के लिए शहर का सजाया गया है। जगह-जगह सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। करीब ढाई घंटे का समय शहर में रोड शो के लिए निर्धारित किया गया है। इस दौरान रूट में सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की जाएगी। शहर में करीब सैकड़ा भर से अधिक सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।
राजनिवास का भी नए सिरे से रंगरोगन किया गया है, यहीं पर रात्रि विश्राम भी वह करेंगे। सतना से बेला पहुंचते ही राहुल का भव्य स्वागत किया जाएगा। बेला से लेकर चोरहटा हवाई पट्टी तक सीधी और सिंगरौली के कार्यकर्ता स्वागत करेंगे। चोरहटा बायपास से लेकर पूरे शहर में रथ में सवार होकर राहुल निकलेंगे और कार्यकर्ताओं एवं आम लोगों का अभिवादन स्वीकार करेंगे। आठ साल बाद राहुल रीवा आ रहे हैं, इस कारण कार्यकर्ताओं ने ऐतिहासिक स्वागत करने की तैयारी की है। पार्टी ने हर सौ मीटर की दूरी पर पार्टी के नेताओं की ड्यूटी लगाई है कि कार्यकर्ताओं को लेकर वह स्वागत करें। शहर में स्वागत के लिए होर्डिंग्स, झंडे और बैनर पाट दिए गए हैं। सिरमौर चौराहे में स्थित राजीव गांधी की प्रतिमा की विशेष रूप से सफाई की गई है। रात्रि में राजनिवास में पार्टी के कुछ प्रमुख लोगों और शहर के गणमान्य नागरिकों से मुलाकात करेंगे। इसके अलावा २८ की सुबह आठ बजे से ११ बजे व्यापारियों, वकीलों एवं अन्य से मिलने का कार्यक्रम रखा गया है। ११ बजे वह शाहपुर के लिए शहर के ढेकहा, करहिया मंडी की ओर से रवाना होंगे।

सिरमौर चौराहे में मंच की अनुमति नहीं
शहर के सिरमौर चौराहे में कृष्णा राजकपूर आडिटोरियम के सामने सभा की तैयारी की गई थी। जिस पर सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए मंच की अनुमति नहीं दी गई है। अब यहां पर रथ में सवार होकर ही सभा को राहुल संबोधित करेंगे। बताया गया है कि यहां पर करीब १५ मिनट वह लोगों को संबोधित करेंगे। सिरमौर चौराहे में पार्टी के सभी प्रमुख पदाधिकारी, कार्यकर्ता मौजूद रहेंगे। साथ ही रीवा एवं गुढ़ विधानसभा के कार्यकर्ताओं को यहां पर पहुंचने के लिए पार्टी द्वारा कहा गया है।

खस्ताहाल सड़क से गुजरेगा काफिला
सप्ताह भर पहले से कांग्रेस अध्यक्ष के रोड शो का कार्यक्रम तय किया गया है। इसके बावजूद अभी तक सड़कों की मरम्मत नहीं कराई जा सकी है। कालेज चौराहे के पास सीवर लाइन डालने के लिए की गई खोदाई की वजह से वहां पर सड़क दबी हुई है। करीब एक फिट से अधिक सड़क नीचे धंसने के बावजूद उस ओर कोई ध्यान नहीं दिया गया है। यहीं से राहुल गांधी का काफिला गुजरेगा। इसके अलावा फ्लाई ओवर के नीचे कई स्थानों पर उखड़ी हुई सड़क और गड्ढे समस्या खड़ी कर सकते हैं।

यात्रा पर पूछे गए सवाल
कांग्रेस अध्यक्ष के रीवा आगमन पर उनसे सवाल भी किए गए हैं। एडवोकेट टास्क फोर्स के अध्यक्ष शिव सिंह ने कहा कि रीवा में कोर्ट भवन के लिए अधिवक्ताओं ने आंदोलन किया। मंत्री के इशारे पर कोर्ट का भवन शहर से बाहर बनाया जा रहा है। इस पर कांग्रेस के स्थानीय नेता खामोश रहे जबकि वकीलों के साथ शहर के कई संगठन साथ खड़े थे। राज्यसभा सांसद, जिले के विधायक इस मामले में खामोश रहे हैं तो उनसे भी अध्यक्ष पूछें कि आखिर ऐसा क्यों किया है। वहीं एससीएसटी एक्ट का विरोध कर रहे बिजेन्द्र गौतम ने कहा है कि २७ सितंबर को सायं सात से साढ़े बजे तक आधे घंटे बिजली बंद कर काला कानून का करें विरोध शहर के लोग। इससे सभी राजनीतिक दलों को सोचने पर मजबूर होना पड़ेगा कि काले कानून के खिलाफ वह भी आवाज उठाएं।

फूल गांव में दोपहर का भोजन करेंगे
राहुल गांधी २८ सितंबर की दोपहर में एक बजे बैकुंठपुर में मीटिंग करने के बाद लालगांव के लिए रवाना होंगे। करीब दो बजे फूल गांव के टीडी सिंह एकेडमी स्कूल भवन में भोजन करेंगे। पहले भोजन का कार्यक्रम हटवा गांव में था लेकिन एसपीजी ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए उसे निरस्त कर फूल गांव में तय किया है।

लालगांव के सभा की जिम्मेदारी बदली
लालगांव में होने वाली सभा में स्थानीय नेताओं द्वारा अपेक्षा के अनुरूप तैयारी नहीं किए जाने के चलते एआइसीसी के पर्यवेक्षकों ने नाराजगी जाहिर की है। यहां पर पर्यवेक्षक सुधांशु चतुर्वेदी और मऊगंज विधायक सुखेन्द्र सिंह को पूरी व्यवस्था संभालने के लिए गया है। दोपहर बाद से मऊगंज, देवतालाब और मनगवां क्षेत्र के कई नेता और कार्यकर्ता इसकी तैयारी में जुट गए।

स्थान परिवर्तन होने से देर शाम चुनरी में शुरू की तैयारी
त्योथर के हायर सेकंडरी स्कूल परिसर में सभा की अनुमति निरस्त होने के बाद पार्टी के नेता वहां से सामग्री चुनरी में पहुंचाना शुरू कर दिया है। कार्यकारी जिला अध्यक्ष रमाशंकर सिंह पटेल ने बताया कि देर शाम चुनरी गांव में पंडाल लगाने का कार्य शुरू हो गया है। प्रशासन की मनमानी से स्थान परिवर्तित किया गया है।

इन्होंने की स्वागत की अपील
कांग्रेस के नेताओं ने राहुल गांधी के कार्यक्रम में स्वागत की अपील की है। जिसमें राज्यसभा सांसद राजमणि पटेल, विधायक सुंदरलाल तिवारी, सुखेन्द्र सिंह, कमलेश्वर पटेल, जिला अध्यक्ष त्रियुगी नारायण शुक्ला, गुरमीत सिंह मंगू, जिला पंचायत अध्यक्ष अभय मिश्रा, पूर्व विधायक राजेन्द्र मिश्रा, मुजीब खान, कार्यकारी अध्यक्ष गिरीश सिंह, रमाशंकर सिंह पटेल, कविता पाण्डेय, शिवप्रसाद प्रधान, बृजभूषण सोहगौरा, शिवप्रसाद प्रधान, अनुपम तिवारी, रुद्रमणि मिश्रा, राजेश मिश्रा, राजेन्द्र प्रसाद मिश्रा, वीरेन्द्र सिंह, मनोज सिंह, रवीन्द्र सोहगौरा, कुंवर सिंह, असफाक अहमद सहित अन्य ने स्वागत की अपील की है।

रीवा शहर में राहुल गांधी का कार्यक्रम
राहुल गांधी रीवा के चोरहटा बायपास में सायं चार बजे पहुंचेंगे। यहां से रोड शो करते हुए निकलेंगे। जहां शिल्पी सिटी, चोरहटा थाना के सामने, गोड़हर मोड़, रेलवे मोड़, ट्रांसपोर्ट नगर, एजी कालेज तिराहा, ढेकहा तिराहा, कनौडिया काम्पलेक्स, जयस्तंभ चौक, वेंकट रोड में खन्ना चौराहा, स्टेच्यू चौराहा, प्रकाश चौराहा, छोटी दरगाह, अस्पताल चौराहा, गल्ला मंडी, अमहिया, बड़ी दरगाह होते हुए ६.३० बजे सिरमौर चौराहे में सभा होगी।
रात्रि विश्राम राजनिवास सर्किट हाउस में करने के बाद २८ को सुबह ११ बजे निकलेंगे। जहां से कालेज चौराहा, ढेकहा तिराहा, करहिया मंडी, होटल शार्कइन होते हुए ११.२० बजे शाहपुर पहुंचेंगे। यहां पर सभा के बाद ११.५० बजे बरौं पहुंचेंगे। जहां से बैकुंठपुर के लिए रवाना होंगे।

चित्रकूट से फूकेंगे चुनावी बिगुल
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी २७ सितंबर को विंध्य में चुनावी बिगुल फूकेंगे। दो दिवसीय कार्यक्रम में सतना और रीवा जिले की कई विधानसभा सीटों के क्षेत्र से रोड शो करते हुए गुजरेंगे। सुबह १०.४० बजे इलाहाबाद से हेलीकाप्टर द्वारा रवाना होकर ११.२० बजे चित्रकूट पहुंचेंगे। यहां कामतानाथ मंदिर में दर्शन करने के बाद दोपहर १२ बजे सभा को संबोधित करेंगे। इसके बाद हेलीकाप्टर से ही १.१० बजे सतना पहुंचेंगे, यहां दोपहर २.१० बजे बीटीआई ग्राउंड में जनसभा को संबोधित करने के बाद ३.१५ बजे रीवा के लिए बस से रवाना होंगे। सायं चार बजे रीवा के चोरहटा बायपास पहुंचने का कार्यक्रम है। जहां के बाद से पूरे शहर में रोड शो होगा। रात्रि विश्राम रीवा के राजनिवास में करेंगे और २८ को सुबह ११ बजे फिर रोड शो प्रारंभ होगा। जिसमें शाहपुर के बाद दोपहर एक बजे बैकुंंठपुर में सभा करेंगे। यहां के बाद लालगांव और त्योंथर के चुनरी में सभा को संबोधित करने के बाद इलाहाबाद के लिए रवाना हो जाएंगे।

सभा स्थल की अनुमति निरस्त करने पर नाराजगी
राहुल गांधी की त्योथर विधानसभा के चुनरी गांव में सभा होनी थी, लेकिन ट्रैफिक दबाव के चलते एसपीजी ने इसे त्योथर के हायर सेकंडरी स्कूल में कर दिया था। एआइसीसी के पर्यवेक्षक विजय कुमार चौबे ने बताया कि पंडाल और मंच का कार्यक्रम पूरा होने के बाद जिला प्रशासन ने कार्यक्रम की अनुमति निरस्त करते हुए फिर से चुनरी गांव में कार्यक्रम के लिए कहा है। एक दिन का समय है, अचानक कार्यक्रम का बदला जाना राजनीतिक साजिश की ओर इशारा करता है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से कार्यक्रम को लेकर क्षेत्र में उत्साह का माहौल है उससे सरकार ने ऐसा षडय़ंत्र किया है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष का कार्यक्रम इस तरह से निरस्त करना जनता को भी समझ में नहीं आ रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here