चंदु शर्मा मुम्बई 
यूनाइटेड किंगडम (ब्रिटेन) ने एकबार फिर से दोहराया है कि न्यूक्लियर सप्लायर ग्रुप (एनएसजी) की सदस्यता के लिए बिना किसी शर्त के वह भारत के नाम का समर्थन करता है. ब्रिटेन ने इसके पीछे तर्क दिया है कि भारत ने इस ग्रुप में शामिल होने के लिए खुद की योग्यताओं को साबित किया है. बता दें कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर परमाणु व्यापार का काम एनएसजी की निगरानी में ही होता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here