शाजापुर(निर्मल)
लालघाटी थाना क्षेत्र की दुपाड़ा चौकी पुलिस को संदिग्ध हालात में युवती और उनके साथियों को थाने ले आए। यहां पर तीन अलग-अलग पक्ष तीन अलग-अलग तरह की बात बताने लगे, जिससे पुलिस घनचक्कर बन गई। कभी युवती की खरीद-फरोख्त का मामला उठा तो कभी शादी के लिए युवती के यहां आने की बातें भी होती रही। फिलहाल लालघाटी पुलिस मामले की जांच कर रही है।पहला पक्ष धर्माखेड़ी जिला राजगढ़ निवासी इंदर पिता भंवरलाल यादव ने बताया कि ग्राम भिलवाडिय़ा जिला राजगढ़ निवासी महेश प्रजापति के साथ डेढ़ साल पहले महाराष्ट्र के गोंदिया निवासी युवती की शादी कराई थी। इसके एवज में युवती के परिजनों ने 1 लाख रुपए लिए थे।शादी के 15 दिन बाद युवती ने अपने माता-पिता की तबियत खराब होने का बहाना किया तो महेश उसे छोडऩे चला गया। कुछ दिन बाद जब युवती को लेने गए तो वहां पर कोईनहीं मिला। इंदर ने बताया कि काफी दिन तक तलाश किया तो युवती का कोईपता नहीं चला, लेकिन उसका मोबाइल चालू था। ऐसे में बदले हुए नाम से बात करके युवती की दूसरी जगह शादी करने की बात कहकर उसे भोपाल बुलवाया और पकड़ लिया।
इसके बाद उससे शादी के समय लिए रुपए लौटाने को कहा तो युवती के अन्य परिजनों ने कहा कि वो दूसरी जगह शादी करने के लिए जा रहे है। वहां से पैसे लेकर दे देंगे। इंदर ने बताया कि युवती के परिजनों की बात मानकर वे युवती को लेकर दुपाड़ा पहुंचे ताकि उन्हें उनके रुपए मिल जाए, लेकिन मामला थाने पर पहुंच गया।
दूसरा पक्ष जिले के ग्राम लसुल्डियागौरी निवासी ओमप्रकाश मालवीय ने बताया कि उसका परिचय इंदर यादव से हो गया था। इंदर से उसने अपने दुपाड़ा में रहने वाले परिचित की शादी के लिए लड़की दिखाने को कहा था। ऐसे में इंदर ने उक्त युवती को कुरावर लाकर ओमप्रकाश और दुपाड़ा निवासियों को लड़की को दिखाया। ओमप्रकाश ने बताया कि इसके बदले में इंदर ने 70 हजार रुपए की मांग की। ओमप्रकाश ने कहा कि अभी वो इतनी राशि नहीं दे सकते, किश्त में इसकी पूर्ति कर सकते है। ये बात मानकर इंदर और उसके साथी युवती को लेकर बुधवार रात को दुपाड़ा आ गए। रात को यहां पर आधे पैसे देने की बात हुई, लेकिन पूरी बात नहीं हो पाई। ऐसे में इंदर और उसके साथी युवती को शाजापुर लेकर आ गए। यहां से गुरुवार सुबह वे दोबारा दुपाड़ा आए। यहां पर जब कोईनहीं था तो युवती ने कहा कि इंदर और उसके साथी उसका अपहरण करके लाए है। उसे उसके माता-पिता के पास पहुंचा दें। ओमप्रकाश ने बताया कि इस सूचना के बाद पुलिस युवती को चौकी पर लेकर चली गई।तीसरा पक्ष
युवती ने कहा कि दुपाड़ा में वो अपने रिश्तेदार के यहां पर आई थी। पहले तो वो अपने पति महेश प्रजापति के साथ जाना चाहती थी, लेकिन वो उसके साथ अच्छा व्यवहार नहीं करता है। इस कारण से वो अब अपने परिजनों के पास जाना चाहती है। इसलिए वो पुलिस के पास आ गई। युवती ने कहा कि उसके पिता का पहले ही निधन हो गया है इसलिए अब उसे उसकी मां के पास पहुंचा दिया जाए। युवती ने कहा कि उसे कुछ भी नहीं पता वो अपनी मां के पास जाना चाहती है।
 शादी करने के लिए युवती अपनी मर्जी से यहां आने की बात कह रही है। ऐसे में मामला थाने पर आ गया है।  ए.एस.मुजाल्दे, टी.आई. लालघाटी शाजापुर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here