मलबा हटने एवं 19 शव निकलने के बाद सेना की टुकड़ी वापस नसीराबाद के लिए रवाना हो गई।
शहर के नन्दनगर स्थित कुमावत पंचायत भवन में शादी समारोह के दौरान अवैध रूप से गैस की रीफिलिंग करते सिलेंडर फटने से शुक्रवार को हुए हादसे में मरने वालों की संख्या 19 हो गई है। मलबे में दबे सभी लोगों के शव रविवार शाम 5 बजे तक निकाले जा चुके हैं।
उधर श्मशान में मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए पहुंचे चिकित्सा मंत्री कालीचरण सर्राफ और कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी को लोगों की नाराजगी झेलनी पड़ी। उन्हें उल्टे पांव वापस लौटना पड़ा।रविवार को मलबे से 10 शव निकाले गए। इससे पूर्व शनिवार को 7 शव निकाले गए थे, जबकि शुक्रवार को हादसे के बाद मौके पर 2 शव मिले थे। हादसे के बाद एक व्यक्ति और लापता बताया जा रहा है उसका कहीं पता नहीं चला है।मलबा हटने एवं 19 शव निकलने के बाद सेना की टुकड़ी वापस नसीराबाद के लिए रवाना हो गई, जबकि राहत व बचाव दल देर शाम तक मौके पर जुटा रहा।
रविवार को मलबे से दस शव निकाले गए। इसमें तीन महिलाएं शामिल हैं। सुबह से मलबा हटाने का काम सेना ने अपने हाथ में लिया। इसके बाद काम में तेजी आई। प्रशासन की ओर से राहत व बचाव कार्य शुक्रवार शाम से शुरू किया गया जो रविवार शाम तक जारी रहा। इस दौरान प्रशासनिक अमला मौके पर मौजूद रहा। इसके अलावा चिकित्सा मंत्री कालीचरण सर्राफ, कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी, महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री अनिता भदेल भी मौका स्थल पर ही रहे।सेना नेे बचाव का काम शुरू करने के बाद सबसे पहले मलबे को सड़क पर एक ओर जमा किया। इसके बाद जहां पर लोग दबे होने की आशंका थी वहां पर जेसीबी से धीरे-धीरे मलबा हटाया गया। इसके बाद राहत व बचाव दल हाथों से मलबा हटाकर दबे लोगों के शव निकालने में जुटा रहा।
पीपाड़सिटी ले गए दस शव
हादसे में मरने वालों में सबसे अधिक पीपाड़ शहर के लोग थे, जो दूल्हे हेमंत पाटनेचा के विवाह में मायरा भरने आए थे। प्रशासन ने इनके शवों का अमृतकौर चिकित्सालय के चीरघर में पोस्टमार्टम कराया। इसके बाद परिजन इनके शव एक साथ ही लेकर पीपाड़सिटी के लिए रवाना हुए।
*इनकी टूटी सांसें*
शहर थानाधिकारी यशवंत सिंह ने बताया कि रविवार को काबरा की पोल पीपाड़ सिटी एवं हाल मुकाम बिराटियां खुर्द निवासी जगदीश पुत्र बींजराज (50), संजयनगर निवासी शीला पत्नी महादेव (55), चरखी गली मालियों की चौपड़ निवासी संजय पुत्र गोविन्द पाटनेचा (44), काबरा की पोल पीपाड़ सिटी निवासी पवन पुत्र बंसत कुमार (19), दूल्हे की माता नन्दनगर निवासी आशा देवी उर्फ आयचुकी पत्नी सुरेन्द्र पाटनेचा (55), निमाज निवासी कुलदीप पुत्र रामनारायण, सुंदर नगर निवासी ओर्शिला (52), हेमलता पत्नी मुकेश (30), काबरों की पोल पीपाड़ सिटी निवासी अंकित पुत्र जगदीश प्रसाद (20) एवं नवीन पुत्र जगदीश (15) के शव निकाले गए।शनिवार शाम तक मालियों का अगुनीबास पीपाड़ सिटी निवासी लक्षित पुत्र विश्वास (1), कर्तव्य पुत्र विश्वास (2), खेतेश्वर नगर नयागांव रोड पाली निवासी खुशी देवड़ा पुत्री दीपक देवड़ा (2), हेमलता पत्नी दीपक देवड़ा (30), काबरा की पोल पीपाड़ सिटी निवासी बसंतराज (40), गजानन्द कॉलोनी हाउसिंग बोर्ड गणेशपुरा निवासी हितेश (35), मालिया का बास पीपाड़ सिटी निवासी मोनिका पत्नी तरुण छीपा (28 ), मालियों का बास पीपाड़ सिटी निवासी निर्मला पत्नी विश्वास (27) एवं मालियों का बास पीपाड़ सिटी निवासी अभिषेक पुत्र देवनारायण (25) के शव निकाले जा चुके थे।
पुलिस ने सभी मृतकों के शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजन के सुपुर्द कर दिया। इस दौरान सहायक पुलिस अधीक्षक ग्रामीण देवेन्द्रकुमार विश्नोई, पुलिस उप अधीक्षक सी. एस. सोढ़ा, सीआई अनूपसिंह चौधरी, किशनगढ़ सीओ सहित अन्य मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here