ब्यूरो चीफ सतना/रामगोपाल पटेल
सतना जिले के प्रसिद्ध तीर्थ स्थल मैहर में शनिवार से को तीन दिवसीय ख्यातिलब्ध उस्ताद अलाउद्दीन खां संगीत समारोह की द्वितीय संध्या का शुभारंभ मैहर के प्रसिद्ध वाद्य वृन्द से हुआ। इस मौके पर एसडीएम सुरेश अग्रवाल, एकेडमी के संचालक डॉ. पी.के. झा, आयोजन समिति के सचिव राजेश अली खां, के.सी.जैन, सत्यभान सिंह भी उपस्थित थे।
संगीत समारोह की द्वितीय संध्या का शुभारंभ प्रमुख कलाकार सुरेश कुमार चतुर्वेदी के नेतृत्व में मैहर वाद्य वृन्द की प्रस्तुति के साथ किया गया। वाद्यवृन्द के कलाकारो ने राग सिन्दूरा से शुभारंभ करते हुये राग झपताल दादरा प्रस्तुत किया तथा समापन कोषी कानडा में अपनी भावभीनी आदरंजलि प्रस्तुत की। कार्यक्रम की द्वितीय प्रस्तुति पंडित सुमन घोष ने राग बागेश्वरी गायन से की। इनका साथ तबले पर ज्योतिमय चौधरी ने संगत की। वहीं गुरू शशि सांखला एवं साथी द्वारा सूफी कथक नृत्य ने भाव रसिक श्रोताओं को भाव विभोर किया। इसके पश्चात् पंडित तरूण भट्टाचार्य एवं प्रवीण गोरखिण्ड द्वारा संतूरी-बांसुरी पर जुगलबंदी प्रस्तुत की। कार्यक्रम के शुभारंभ अवसर पर एस.डी.एम. सुरेश अग्रवाल द्वारा मैहर वाद्यवृन्द के कलाकारो का स्वागत पुष्पाहार से किया। इसके पश्चात् बाबा अलाउद्दीन खां की पोती ने पंडित सुमन घोष का स्मृति चिन्ह प्रदान किया तथा एकेडमी के संचालक डॉ. पी.के. झा ने पंडित सुमन घोष का स्वागत किया। संगीत समारोह स्थल पर बाबा अलाउद्दीन खां की आलमनामा सचित्र प्रदर्शनी भी लगाई गई।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here