प्रापर्टी खरीदने का आया सही समय

0
40

बिजनेस डेस्कः कहते हैं कि जब मार्कीट में कोई तेजी दिखे तो जायदाद के मामले में निवेश करने के लिए कदम उठा लेना चाहिए। भारत में रियल एस्टेट क्षेत्र में अभी भी कुछ जान है तो आपको तत्काल कदम उठा कर मौके को हाथ से नहीं गंवाना चाहिए।

अब देखने से पता चल रहा है कि रियल एस्टेट कारोबार में वृद्धि हो रही है। जायदाद के कारोबार में लगे निवेशकों के अनुसार वित्तीय वर्ष 2018 में भारत के कुछ प्रमुख शहरों में बिक्री का रुझान बढ़ रहा है। मकानों के लिए कर्जे की मांग भी बढ़ रही है।

एच.डी.एफ.सी. के प्रबंधकों की मानें तो उनके अनुसार होम लोन की दर में कुछ विस्तार हुआ है, लोगों की आमदन बढ़ी है और जायदाद की कीमतें फिलहाल स्थिर हैं। रियल एस्टेट रैगूलेशन एंड डिवैल्पमैंट एक्ट पारदर्शिता और अन्य ज्यादा आत्मविश्वास पैदा करके समय पर प्रोजैक्टों को जल्दी से जल्दी मुकम्मल करने में मददगार हो रहा है जबकि पहले प्रोजैक्टों के मुकम्मल होने में सुस्ती की दर देखने को मिली थी। अब रुकावटें दूर होती नजर आ रही हैं जबकि नोटबंदी के कारण वर्ष 2016-17 में रियल एस्टेट को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था।

ग्रुप के चीफ प्रोडक्ट ऑफिसर रवि भूषण ने बताया कि भारतीय रियल एस्टेट सैक्टर में किफायती कीमत में बड़े घर खरीदने का ट्रैंड बढ़ रहा है। शहरीकरण बढऩे के साथ लोगों की सैलरी बढऩे और पढ़े-लिखे घर खरीदने वाले लोग हैदराबाद, पुणे और चेन्नई जैसे शहरों में बड़े घरों की मांग कर रहे हैं। भूषण ने आगे कहा कि रियल एस्टेट कम्पनियों को अपना अप्रोच बदलने की जरूरत है। उन्हें इस मौके का फायदा उठाने के लिए रणनीति बनानी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here