स्कूल में छात्र की पिटाई मामले में एफआईआर दर्ज

0
24
दिल्ली से रिपोर्ट रामा नन्द तिवारी..
स्कूल के अंदर क्लास टीचर द्वारा बच्चे की बेरहमी से पिटाई मामले में पुलिस ने जेजे एक्ट में एफआईआर दर्ज की है। मामला राजेंद्र नगर स्थित जीडी सलवान पब्लिक स्कूल का है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, कौशल्या परिवार के साथ करोल बाग के बापा नगर में रहती हैं। उनका बेटा कृष राजेंद्र नगर स्थित जीडी सलवान पब्लिक स्कूल में 7वीं क्लास में पढ़ता है।
बुधवार को उनका बेटा स्कूल गया था। पीटी का पीरियड खत्म होने के बाद जब उनका बेटा क्लास रूम में पहुंचा तो उसे प्यास लगी थी। उसने क्लास टीचर राधे से पानी पीने की इजाजत मांगी, लेकिन टीचर ने मना कर दिया। बच्चे ने दोबारा टीचर से पानी पीने के लिए पूछा तो आरोप है कि इस बार टीचर ने बच्चे को डेस्क के ऊपर उलटा लिटाकर उसके सिर पर थप्पड़ और घूसों से मारना शुरू कर दिया। बच्चे की बेहोशी जैसी हालत हो गई। क्लास रूम के दूसरे बच्चों ने उसे संभाला और उसे पानी पिलाया। इसके बाद बच्चे को मेडिकल रूम के अंदर ले गए। बच्चों ने मेडिकल इंचार्ज से भी शिकायत की, लेकिन उन्होंने ने भी कुछ नहीं किया।
स्कूल टाइम के बाद जब बच्चा घर पहुंचा, तो उसने टीचर द्वारा पिटाई के बारे में बताया। उसे बहुत परेशानी हो रही थी। बच्चे का पिता उसे आरएमएल हॉस्पिटल ले गया। वहां से उन्हें बच्चे को कलावती हॉस्पिटल ले जाने की सलाह दी गई, लेकिन वे घबरा गए और बच्चे को घर वापस ले आए। रात में ज्यादा दिक्कत होने पर पैरेंट्स ने मेडिकल स्टोर से दवाई दिला दी।
अगले दिन बच्चे का संस्कृत का पेपर था इसलिए वह बच्चे साथ खुद भी पति के साथ स्कूल गई। स्कूल पहुंचने के बाद उन्होंने पीसीआर कॉल कर बच्चे की पिटाई के बारे में बताया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बच्चे को मेडिकल के लिए लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया। पुलिस ने ही सलाम बालक ट्रस्ट की हेल्पलाइन नंबर पर कॉल कर पूरी घटना के बारे में बताया। पुलिस ने मेडिकल रिपोर्ट और बच्चे के बयान के आधार पर जेजे एक्ट में मामला दर्ज कर लिया।
हालांकि, जी डी सालवान पब्लिक स्कूल के अधिकारियों का कहना है कि स्कूल पर लगाए गए आरोप गलत हैं। बच्चे को कोई चोट नहीं आई है। यह आरोप भी गलत है कि स्कूल मैनेजमेंट गुरुवार को पैरंट्स की शिकायत पर उनसे नहीं मिला। स्कूल की इमेज को खराब करने की कोशिश की गई है। सूत्रों का कहना है कि इस मामले में स्कूल की ओर से भी पुलिस में शिकायत दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here