डोनाल्‍ड ट्रंप को गंवानी पड़ सकती राष्ट्रपति की कुर्सी

1
290

लंदन। डोनाल्ड ट्रंप राष्ट्रपति की कुर्सी गंवा सकते हैं। उनकी जगह भारतीय मूल की निक्की हेली ले सकती हैं। यह कहना है अमेरिकी पत्रकार माइकल वॉल्फ का।

वॉल्फ ने अमेरिकी राष्ट्रपति के पहले साल के कार्यकाल पर ‘फायर एंड फ्यूरी : इनसाइड द ट्रंप ह्वाइट हाउस’ नाम से पुस्तक लिखी है। इसमें उन्होंने ट्रंप को लेकर कई सनसनीखेज जानकारियां दी हैं।

बीबीसी रेडियो को दिए अपने साक्षात्कार में वॉल्फ ने कहा, ‘उनके पुस्तक में छपी सूचनाओं के सामने आने के बाद ट्रंप को राष्ट्रपति पद से चलता होना पड़ सकता है।

अब ज्यादातर लोगों को लगता है कि यह व्यक्ति सच में इस पद के उपयुक्त नहीं है।’ वॉल्फ ने अपनी पुस्तक में ट्रंप के पूर्व प्रमुख रणनीतिकार स्टीव बैनन के हवाले से दावा किया है कि 2016 में ना ट्रंप और ना ही उनके साथियों को भरोसा था कि वह अमेरिकी राष्ट्रपति पद का चुनाव जीत जाएंगे।

वहीं ट्रंप ने किताब को खोखली और झूठी जानकारियों से भरपूर बताया है। ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘वॉल्फ अपनी किताब को बेचने के लिए झूठी और भ्रामक कहानियां गढ़ रहे हैं।

उन्होंने स्टीव बैनन का सहारा लेकर इसे सच साबित करने की कोशिश की है। यह वही स्टीव हैं जो अपनी नौकरी बचाने के लिए रो रोकर भीख मांग रहे थे।’

वॉल्फ ने अपनी पुस्तक में लिखा है कि ट्रंप की करीबी और संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राजदूत निक्की हेली अधिक योग्य और महत्वाकांक्षी हैं। ट्रंप के करीबियों को भी लगता है कि भारतीय मूल की हेली ट्रंप की उत्तराधिकारी बन सकती हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति को ब्लॉक नहीं

ट्विटर ने साफ किया है कि वह अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप समेत किसी भी वैश्विक नेता के अकाउंट को ब्लॉक नहीं करेगा, भले ही उनके बयान आपत्तिजनक हों।

ट्विटर ने कहा कि वह वैश्र्िवक स्तर पर लोगों के बीच बातचीत को बढ़ावा देने के पक्ष में है। अकाउंट बंद करने से जरूरी चर्चाएं बाधित होंगी।

ज्ञात हो कि डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरियाई तानाशाह के एक बयान के जवाब में परमाणु हथियारों के इस्तेमाल से जुड़ा ट्वीट किया था। इसे हिंसा को बढ़ावा देने वाला मानते हुए ट्रंप के अकाउंट को ब्लॉक करने की मांग उठी थी।

1 COMMENT

  1. I and my friends happened to be following the excellent information on your web blog then before long came up with a terrible suspicion I never thanked you for them. All of the young boys happened to be as a result joyful to study all of them and have now without a doubt been loving them. Appreciation for indeed being considerably helpful and then for using varieties of ideal subjects most people are really desirous to be aware of. Our sincere regret for not saying thanks to you earlier.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here