नकद भुगतान पर लागू हुई नई पाबंदी, सख्त हुए नियम

0
159

नई दिल्ली। आयकर विभाग ने अवैध धनराशि के मामले में लोगों को आगाह करते हुए नकद भुगतान को लेकर कुछ नई और कड़ी पाबंदियां लगा दी हैं। गो कैशलेस गो क्लीन के संदेश के साथ आयकर विभाग ने चेतावनी दी है कि वह अवैध तरीके से नकद धनराशि का लेन-देन न करें। नियमों का पालन नहीं करने पर आयकर पर लेवी या जुर्माना देना पड़ सकता है।

गो कैशलेस गो क्लीन के साथ सख्त पाबंदी-

आयकर विभाग की ओर से मंगलवार को जारी सभी प्रमुख अखबारों में दिए विज्ञापनों के अनुसार अब जनता को नकद लेने-देन की कुछ और पाबंदियों में बांध दिया है।

आयकर विभाग के मुताबिक दो लाख रुपये या उससे अधिक का नकद एक साथ किसी एक व्यक्ति से एक दिन में न स्वीकार करें। साथ ही इतनी ही रकम का एक ही समय में एक या अधिक बार ट्रांजैक्शन न करें।

नई पाबंदियों में आयकर विभाग ने अचल संपत्ति के हस्तांतरण के लिए भी 20 हजार रुपये नकद या उससे अधिक न तो स्वीकार करने और ना ही इसका भुगतान करने को कहा है।

10 हजार से अधिक के नकद भुगतान पर पाबंदी-

इसके अलावा इनकम टैक्स विभाग ने निर्देश दिया है कि अपने व्यापार या व्यवसाय के खर्च के रूप में भी 10 हजार रुपये से अधिक का नकद भुगतान न करें। अन्यथा जुर्माना लग सकता है।

आयकर विभाग ने जनता से इस तरह का अवैध लेन-देन करने वालों की शिकायत करने का भी आग्रह किया है। विभाग ने जनता से अपील की है कि काला धन या बेनामी संपत्ति के मामलों की जानकारी विभागीय ईमेल पर देने को कहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here