हरिवंश नारायण सिंह राज्‍यसभा के उप सभापति के रूप में चुने गए ।

0
50
राज्य सभा ने बी.के. हरिप्रसाद (संयुक्‍त विपक्षी उम्मीदवार) के खिलाफ राज्यसभा के उप-सभापति के रूप में हरिवंश नारायण सिंह(एन.डी.ए के उम्मीदवार) को चुना।
श्री हरिवंश को 125 मत प्राप्‍त हुए, जबकि हरिप्रसाद को 105 मत मिले।
राज्य सभा के पिछले उपसभापति प्रोफेसर पी.जे. कुरियन (इस वर्ष 1 जुलाई को कार्यकाल समाप्‍त हुआ) थे।
हरिवंश को वर्ष 2014 में नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (जे.डी.यू) ने राज्यसभा के लिए नामित किया था।
*हरिवंश नारायण सिंह:*
श्री हरिवंश का जन्‍म 30 जून, 1956 को बालिया (उत्‍तर प्रदेश) में एक मध्यम श्रेणी के परिवार में हुआ था।
हरिवंश बनारस हिंदू विश्‍वविद्यालय (बी.एच.यू) से अर्थशास्‍त्र में परास्नातक और बी.एच.यू से पत्रकारिता में पी.जी. डिप्लोमा किया है।
            राज्य सभा का उपसभापति राज्यसभा के सभापति की अनुपस्थिति में राज्य सभा की कार्यवाही का संचालन करता है।उपसभापति एक संवैधानिक पद (संविधान के अनुच्छेद 89 के तहत) है, जो यह निर्दिष्‍ट करता है कि राज्यसभा अपने सांसदों में से किसी एक को पद के रिक्‍त हो जाने पर उप-सभापति के लिए चुनती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here