SC/ST ऐक्ट पर िवशेष

0
27
लखनऊ सम्पादकीय स्टेट हेड एन टी वी टाइम भानू मिश्रा उत्तर प्रदेश की कलम से SC/ST ऐक्ट पर िवशेष:-
पोस्ट थोड़ा लम्बी है लेकिन आपके हित में है इसलिए अंत तक पढ़े!
SC/ST एक्ट विशेष—मोदी भक्ति में हर सीमा पार करने वाले व्यक्ति विशेष ध्यान से पढ़े !
जिसके कलेजे में दम है वो विरोध कर रहा है। आप 56 इंच की छाती ले के घूमने वाले की हर गलत बात पर समर्थन नहीं करे। ये प्रश्न न पूछकर आप इस दुष्चक्र को समर्थन कर रहे हैं। ये कहाँ का न्याय है सिर्फ आरोप लगाने से ही गिरफ्तार कर लिया जाए। अगर व्यक्ति निर्दोष सिद्ध भी हो जाये तो तो उस अंतहीन पीड़ा का जिम्मेदार क्या मोदी होंगे? व्यक्ति जितने दिन जेल में रहेगा उस आर्थिक मानसिक और सामाजिक उलाहना का जिम्मेदार कौन होगा। किसी की नौकरी छूट जाएगी, किसी की पढ़ाई रुक जाएगी, कोई हथकड़ी में परीक्षा देने जायेगा।ध्यान रख्खे इस बात का कि जिस दिन खुद आप चपेट में आएंगे उस दिन हवालात में आपको फ़ेसबुक पोस्ट के मोबाइल नही मिलेगा। अकेले सामान्य वर्ग ही इससे पीड़ित नही होगा, ओबीसी के साथ – साथ मुस्लिम समुदाय के लाखों लोग भी कभी न मिट पाने वाले दर्द को झेलेंगे। लेकिन सवर्ण के अलावा अन्य वर्गों द्वारा इसका विरोध न करना आश्चर्य पैदा करने वाला है । इसलिए चाटुकारिता बन्द कर सरकार से सवाल करने की हिम्मत कीजिये। सिर्फ ईष्यावश और दुर्भावना के आधार पर लगाये गए आरोप से निर्दोष होते हुए भी यदि आप पर कोई मुकदमा पंजीकृत हुआ तो कोई मोदी कोई भाजपा कोई संघ बचाने नही आयेगी और न बचा पाएगी । न्यायालय के हर फैसले को सम्मान के साथ स्वीकृति देने की बात करने वाले लोग आखिर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को क्यों बदलना चाहते है।
 आखिर ऐसा सिर्फ वोटो के लिए ही तो हो रहा है वरना उपरोक्त दोनों वर्गो का संसद में पर्याप्त प्रतिनिधित्व होते हुए भी कोई सरकार से सवाल नही कर रहा है क्योंकि इनका ईमान बिक गया है और मोदी से सामना करने की तो औकात ही नही है। इसलिए जो गलत है वो गलत है उसका विरोध करना ही उचित है।
विशेष- जिनको अभी भी ये बात समझ नही आयी है निश्चित रूप से तब समझ मे आ जायेगी जब खुद वो या उनका पुत्र पुत्री भाई या परिवारजन या मित्र इस दुष्चक्र में फसेगें। हमें भी कोई जल्दी नही है।
*निवेदन- इस बात का कोई संकोच न करते हए कि आपकी मित्रता सूची में SC/STका कोई मित्र नाराज हो जाएगा पोस्ट को शेयर करते रहे।*

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here