सांसद राव उदय प्रताप सिंह ने मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सेवा शिविर का शुभारंभ किया

0
88

नरसिंहपुर, 12 जनवरी 2018. राज्य बीमारी सहायता एवं राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा शासकीय जिला चिकित्सालय परिसर में मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सेवा शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का शुभारंभ सांसद राव उदय प्रताप सिंह ने और अध्यक्षता अपैक्स बैंक के पूर्व उपाध्यक्ष कैलाश सोनी ने की।
इस अवसर पर विधायक जालम सिंह पटैल व संजय शर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष संदीप पटैल, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अध्यक्ष वीरेन्द्र फौजदार, नीरज महाराज, बलराम तिवारी, बंटी सलूजा, नवीन अग्रवाल, प्रदेश के विभिन्न अस्पतालों से आये चिकित्सा विशेषज्ञ और मरीज तथा उनके परिजन मौजूद थे।
शिविर को संबोधित करते हुए सांसद श्री सिंह ने कहा कि राज्य और केन्द्र सरकार आम लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवायें उपलब्ध कराने के लिए निरंतर कार्य कर रही है। सरकार का प्रयास रहता है कि लोगों को अच्छे से अच्छी स्वास्थ्य सुविधायें मिले। उन्होंने कहा कि प्रत्येक डॉक्टर मरीज के उपचार के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ देते हैं। चिकित्सक हमारे स्वास्थ्य की चिंता करते हैं। इसलिए समाज में सबसे अधिक सम्मान डॉक्टरों का होता है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं पर बढ़ती जनसंख्या के दबाव के बावजूद डॉक्टर अच्छी से अच्छी सेवायें देने का प्रयास करते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री रिलीफ फंड, मुख्यमंत्री सहायता कोष से भी गरीबों के इलाज के लिए भी सहायता उपलब्ध कराई जाती है।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए अपैक्स बैंक के पूर्व उपाध्यक्ष कैलाश सोनी ने कहा कि प्रदेश में राज्य सरकार शासकीय अस्पतालों के माध्यम से आम लोगों को नि:शुल्क उपचार और दवाईयां उपलब्ध करा रही है। राज्य सरकार प्रत्येक मरीज के साथ खड़ी है। सरकार का प्रयास है कि हर व्यक्ति को उपचार की सुविधा मिले। कोई भी व्यक्ति पैसे अभाव में इलाज से वंचित न रहे। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश राज्य बीमारी सहायता निधि योजना के अंतर्गत गंभीर बीमारियों में गरीब व्यक्तियों को उपचार के लिए सहायता उपलब्ध कराई जाती है। सरकारी अस्पतालों में संस्थागत प्रसव की संख्या बढ़ी है।
विधायक जालम सिंह पटैल ने कहा कि राज्य सरकार ने स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में क्रांतिकारी कार्य किया है। उन्होंने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटैल नि:शुल्क औषधि योजना के अंतर्गत नि:शुल्क दवाईयां उपलब्ध कराई जाती हैं। विधायक ने कहा कि पहले की तुलना में बीमारियों की संख्या भी बढ़ी है। कई बार ऐसा भी देखा गया है कि छोटे बच्चे भी विभिन्न बीमारियों से प्रभावित हो रहे हैं। उन्होंने नियमित दिनचर्या और खान- पान को जीवन का हिस्सा बनाने पर बल दिया, ताकि बीमारियों से बचा जा सके।
शिविर में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जीसी चौरसिया ने बताया कि बच्चों को होने वाली विभिन्न बीमारियों के उपचार के लिए शिविर का आयोजन किया गया है। आज बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कर चिन्हित किया जायेगा और उन्हें संबंधित अस्पताल में उपचार के लिए भेजा जायेगा। बच्चों का पूरा इलाज शासन द्वारा किया जायेगा। उन्होंने बताया कि कभी- कभी जन्म के साथ ही बच्चों में कुछ विकृति आ जाती हैं। ऐसी विकृतियों का उपचार भी किया जायेगा। उन्होंने बताया कि राज्य बीमारी सहायता निधि के अंतर्गत गरीब व्यक्तियों को गंभीर बीमारियों में नि:शुल्क उपचार की सुविधा दी जाती है। शासकीय अस्पताल में जिन बीमार व्यक्तियों के इलाज की व्यवस्था नहीं होती, उनमें बीमार व्यक्ति का इलाज निजी अस्पतालों में शासन द्वारा कराया जाता है।
शिविर के उद्घाटन सत्र के समापन अवसर पर सिविल सर्जन डॉ. विजय मिश्रा ने सभी का आभार व्यक्त किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here