गुजरात में दलित को जला कर मारने वाला आरोपी मुंबई से पुलिस ने किया अरेस्ट

0
291

महाराष्ट्र : चंदू शर्मा
मुंबई  –  कुछ दिनों पहले गुजरात में एक दलित युवक को कुछ लोंगो ने जिन्दा ही जला दिया था। इस घटना से गुजरात की सियासत भी काफी गरमा गई थी। दलित संगठनों सहित तमाम लोगों ने इसकी कड़ी निंदा की और सड़कों पर भी आंदोलन निकाल इस घटना के प्रति रोष व्यक्त किया गया। इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया था जबकि एक फरार हो गया था। इस फरार आरोपी को मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर गुजरात पुलिस के सौंप दिया। आरोपी का नाम देवायत जोवता बताया जाता है।

इस तरह से पकड़ा गया आरोपी
गुजरात पुलिस ने आरोपी की सारी डिटेल्स मुंबई और महाराष्ट्र पुलिस से साझा किया था। मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच को मिली गुप्र सूचना मिली कि देवायत जुहू के एक होटल में छुपा बैठा है। क्राइम ब्रांच पुलिस ने जाल बिछा कर जब जुहू के उस होटल से दबिश दी तो पता चला कि आरोपी ने थोड़ी देर पहले होटल छोड़ था।
आखिर पुलिस को फिर से सूचना मिली कि देवायत ठाणे से सड़क के रास्ते गुजरात जा रहा है। इसके बाद पुलिस ने विरार में नाकाबंदी कर देवायत को गिरफ्तार कर ही लिया।

क्या था मामला?
गुजरात में ड्राइवर का काम करने वाले उका गोहाली (26) ने कुछ दिनों पहले अपने मित्र महेंद्र परमार से एक गाड़ी ख़रीदा था। गाड़ी का 30 हजार रूपया बकाया रख कर गोहाली ने परमार को सारे पैसे चुकता कर दिए थे। लेकिन कुछ दिन बाद ही परमार ने गोहली से बकाया पैसो की मांग करने लगा जबकि गोहाली कुछ दिनों की और मोहलत मांग रहा था। पैसो को लेकर गोहाली और परमार में आए दिन झगड़े होने लगे। आखिरकार रोज रोज के झगड़े से तंग आकर गोहाली ने परमार के खिलाफ पुलिस स्टेशन में शिकायत कर दी। गोहाली के इस काम से परमार इतना नाराज हुआ कि उसने 23 मार्च को अपने तीन दोस्तों के साथ गोहाली सहित उसकी गाड़ी को भी जला दिया जिससे गोहाली की मौत हो गयी।

इस घटना के बाद से पूरे गुजरात में दलित आंदोलन होने लगे। लॉ एंड ऑर्डर बिगड़ता देख पुलिस ने अपनी जांच तेज कर दी और इस मामले में मुख्य आरोपी सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया। लेकिन इसी मामले का आरोपी देवायत गुजरात से भाग कर मुंबई आ गया। बताया जाता है कि देवायत गुजरात के एक राजनीतिक पार्टी का बड़ा नेता माना जाता  है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here