मूडीज ने देश का क्रेडिट रेटिंग आउटलुक स्टेबल से नेगेटिव किया, सरकार ने कहा- फंडामेंटल मजबूत

Total Views : 4
Zoom In Zoom Out Read Later Print

मूडीज ने देश का क्रेडिट रेटिंग आउटलुक स्टेबल से नेगेटिव किया, सरकार ने कहा- फंडामेंटल मजबूत

नई दिल्ली. रेटिंग एजेंसी मूडीज ने भारत का क्रेडिट रेटिंग आउटलुक स्टेबल से बदलकर नेगेटिव कर दिया। मूडीज ने शुक्रवार को कहा कि आने वाले समय में आर्थिक विकास दर में गिरावट के जोखिम को देखते हुए आउटलुट में बदलाव किया है। हालांकि, मूडीज ने भारत के लिए Baa2 विदेशी और स्थानीय मुद्रा दीर्घकालीन जारीकर्ता रेटिंग बरकरार रखी। मूडीज के आउटलुक पर सरकार ने कहा है कि अर्थव्यवस्था का आधार मजबूत है।

'सरकार के कदमों से आर्थिक सुस्ती का प्रभाव कम होगा'

  1. मूडीज ने कहा कि लंबे समय से ग्रामीण इलाकों में तंगहाली, रोजगार के कम मौके और अब नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस में नकदी संकट की वजह से आर्थिक सुस्ती गहराने के आसार बढ़ गए हैं। साथ ही कहा कि अर्थव्यवस्था को सहारा देने के लिए सरकार ने जो कदम उठाए हैं, उनसे स्लोडाउन का समय और असर कम होना चाहिए।

  2. मूडीज का कहना है कि नॉमिनल जीडीपी ग्रोथ में तेजी नहीं आई तो सरकार को बजट घाटा कम करने और कर्ज का बोझ बढ़ने से रोकने के मोर्चे पर बहुत दबाव झेलना पड़ेगा।

  3. सरकार ने कहा है कि भारत दुनिया के तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था वाले देशों में शामिल है। इकोनॉमी को मजूबत करने के लिए हमने फाइनेंशियल और अन्य सेक्टर से जुड़े कई सुधार किए हैं। दुनियाभर में आर्थिक सुस्ती को देखते हुए नीतिगत फैसले भी लिए। इन कदमों से देश के आउटलुक को फायदा होगा और निवेश बढ़ेगा। वर्ल्ड इकोनॉमी को लेकर इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड के ताजा अनुमान में भारत की जीडीपी ग्रोथ इस साल 6.1% और अगले साल 7% रहने की उम्मीद जताई गई है।

See More

Latest Photos