प्रियंका ने कहा-अयोध्या पर फैसले के बाद एकता बनाए रखना सबकी जिम्मेदारी, गडकरी बोले- हमें कोर्ट पर पूरा भरोसा

Total Views : 73
Zoom In Zoom Out Read Later Print

प्रियंका ने कहा-अयोध्या पर फैसले के बाद एकता बनाए रखना सबकी जिम्मेदारी, गडकरी बोले- हमें कोर्ट पर पूरा भरोसा

नई दिल्ली. अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के 5 जजों की बेंच ने शनिवार को फैसला पढ़ना शुरू किया। इससे पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया- जैसा कि आप सबको पता है, अयोध्या मामले पर आज उच्चतम न्यायालय का फैसला आने वाला है। इस घड़ी में न्यायालय का जो भी निर्णय हो, देश की एकता, सामाजिक सद्भाव, और आपसी प्रेम की हजारों साल पुरानी परम्परा को बनाए रखने की जिम्मेदारी हम सबकी है। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार शाम देश के नागरिकों से अपील की थी कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करें। शांति बनाकर रखें। यह फैसला किसी की जीत या हार नहीं है।

  • बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार- सुप्रीम कोर्ट का फैसला हर किसी को स्वीकार करना चाहिए। इस पर किसी तरह का विवाद नहीं होना चाहिए। हम हर किसी से अपील करते हैं कि नकारात्मक माहौल न बनाएं। आत्मीयता बनाए रखें।
  • लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी- “हम शांति के पक्ष में शुरू से हैं। मैं बराबर शांति का पुजारी हूं। हम सभी को सुप्रीम कोर्ट के आदेश को मानना चाहिए। 
  • ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक- मैं सभी से अपील करता हूं कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले को स्वीकार करें। शांति और सौहार्द बनाए रखें। भाईचारा हमारी धर्मनिरपेक्षता की पहचान है।
  • केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी- हमें न्यायालय में पूरा भरोसा है। मैं सभी से अपील करता हूं कि सुप्रीम कोर्ट का जो भी फैसला हो, उसे स्वीकार करें। शांति बनाए रखें।
  • अस्थाई राम मंदिर के मुख्य पुजारी महंत सत्येंद्र दास- मैं सभी से सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करने और शांति बनाए रखने की अपील करता हूं। प्रधानमंत्री ने सही कहा कि अयोध्या का फैसला किसी की जीत या हार नहीं है।

See More

Latest Photos