अजित पवार ने कांग्रेस के झूठे आरोप पर कहा, 'शर्म आती है क्या?'

Total Views : 13
Zoom In Zoom Out Read Later Print

अजित पवार ने कांग्रेस के झूठे आरोप पर कहा, 'शर्म आती है क्या?'

tv time deepak tiwari



महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी द्वारा सरकार बनाने का न्योता मिलने के बाद से एनसीपी को अभी तक कांग्रेस के समर्थन की चिट्ठी नहीं मिली है। एनसीपी नेता अजित पवार से इस बारे में जब पत्रकार ने सवाल पूछा तो उन्होंने कांग्रेस पर ही निशाना साधा, रिपोर्ट ने पूछा, कांग्रेस का आरोप है कि एनसीपी की वजह से महाराष्ट्र में फैसला लेने में देरी हो रही है?

अजित पवार ने मराठी में कहा, ' लाज वाटते है का' इसका मराठी में अर्थ होता है शर्म आती है क्या?इसका मतलब साफ है एनसीपी कांग्रेस पार्टी की देरी को लेकर गुस्सा है। इसका सीधा सा मतलब ये भी होता है कि देरी एनसीपी की तरफ से नहीं बल्कि कांग्रेस पार्टी की तरफ से की जा रही है और ठीकरा एनसीपी पर फोड़ा जा रहा है जो सही नहीं है।

अजीत पवार मे मीडिया से बातचीत मे कहा, 'राज्यपाल ने सभी विधायको के नाम, उनका क्षेत्र और उनका सिग्नेचर मांगा है जो इनते कम समय मे संभव नही हैं। कांग्रेस पार्टी की यहा की लीटरशीप फैंसला लेले और उसके बारे में सेन्ट्रल लीड़र शीप के फोन पर बात दें। ऐसा करके भी बातचीत हो सकती हैं। अगर राष्ट्रपति शासन लग भी जाता है जब भी हमारे पास 145 का आकड़ा होता है हम राज्यपाल के पास जाएगे और सरकार बनाने का दावा पेंश करेगे। एनसीपी की पूरी तैयारी है , बस कांग्रेस पार्टी की तरफ से पत्र नही आया। कांग्रेस पार्टी में अभी भी मंथन का दौर जारी है।'

See More

Latest Photos