जी एंटरटेनमेंट के शेयर में 6% गिरावट, सुभाष चंद्रा के चेयरमैन पद से इस्तीफे का असर

Total Views : 11
Zoom In Zoom Out Read Later Print

जी एंटरटेनमेंट के शेयर में 6% गिरावट, सुभाष चंद्रा के चेयरमैन पद से इस्तीफे का असर

मुंबई. जी एंटरटेनमेंट के के शेयर में मंगलवार को 6% गिरावट आ गई। चेयरमैन पद से सुभाष चंद्रा ने सोमवार को इस्तीफा दे दिया। बोर्ड ने उनका इस्तीफा मंजूर कर लिया। 27 साल पहले 1992 में जी एंटरटेनमेंट की शुरुआत करने वाले चंद्रा अब गैर-कार्यकारी निदेशक के तौर पर रहेंगे।

कंपनी ने सोमवार को हुई बोर्ड बैठक में तीन नए स्वतंत्र निदेशक- आर गोपालन, सुरेन्द्र सिंह और अपराजिता जैन की नियुक्ति की। दो स्वतंत्र निदेशकों- निहारिका वोरा, सुनील शर्मा और एस्सेल ग्रुप के एक नामित (नॉमिनी) निदेशक सुबोध कुमार के बदले नई नियुक्तियां की गईं।

चंद्रा के बेटे पुनीत गोयनका जी एंटरटेनमेंट के एमडी और सीईओ

पुनर्गठित बोर्ड में 6 स्वतंत्र निदेशक और एस्सेल ग्रुप के दो सदस्य शामिल हैं। एस्सेल ग्रुप जी एंटरटेनमेंट का प्रमोटर है। कंपनी ने बताया कि सेबी के लिस्टिंग नियमों को ध्यान में रखते हुए चंद्रा ने इस्तीफा दिया। नियमानुसार चेयरपर्सन का कंपनी के एमडी या सीईओ से संबंध नहीं होना चाहिए। बता दें चंद्रा के बेटे पुनीत गोयनका जी एंटरटेनमेंट के एमडी और सीईओ हैं।
जी एंटरटेनमेंट का मार्केट कैप 31000 करोड़ रुपए

    जी एंटरटेनमेंट का कहना है कि बोर्ड के पुनर्गठन का मकसदअलग-अलग क्षेत्र के अनुभवी लोगों को शामिल कर कंपनी को मजबूत बनाना था। ताकि मौजूदा और नए निवेशक जिन्होंने 4,770 करोड़ रुपए का निवेश कर कंपनी के आंतरिक मूल्यों के प्रति भरोसा जताया, उन्हें अच्छा संदेश दे सकें।

    एस्सेल ग्रुप ने सितंबर में जी एंटरटेनमेंट की 11% हिस्सेदारी इन्वेस्को ओपेनहाइमर फंड को 4,224 करोड़ में बेच दी थी। इन्वेस्को के पास जी एंटरटेनमेंट के 7.74% शेयर पहले से थे। 20 नवंबर को एस्सेल ग्रुप ने बताया कि कर्ज चुकाने के लिए जी एंटरटेनमेंट की 16.5% हिस्सेदारी और बेची जाएगी। इसके बाद जी एंटरटेनमेंट में प्रमोटरों की हिस्सेदारी घटकर सिर्फ 5% रह जाएगी। बीते वित्त वर्ष (2018-19) में जी एंटरटेनमेंट का रेवेन्यू 6,857.86 करोड़ रुपए रहा। कंपनी का मार्केट कैप 31,000 करोड़ रुपए है।

    एस्सेल ग्रुप इस साल की शुरुआत से नकदी संकट से जूझ रहा है। समूह ने कर्ज चुकाने के लिए प्रमोटर शेयरों समेत कई संपत्तियां बेचीं। ग्रुप ने पिछले दिनों कहा था कि और भी मीडिया और नॉन मीडिया एसेट्स बेचने के लिए कोशिशें जारी हैं।

See More

Latest Photos