कमलनाथ के राज में सेल्समैन की चांदी

Total Views : 18
Zoom In Zoom Out Read Later Print

कमलनाथ के राज में सेल्समैन की चांदी

गरीबो को समय पर नही मिल रहा अनाज


आखिर कौन खा रहा है अंतरोदय योजना में गरीबो को दी जाने वाली शक्कर को

झाबुआ जिले के मेघनगर में संचालित समस्त उचित मूल्य की दुकानों पर ,सेल्समेन मनमानी पर उतारू है कमलनाथ सरकार द्वारा गरीबो को कम कीमत पर राशन दिए जाने का खूब प्रचार प्रसार कर रही है , मगर उसके उल्टे सेल्समैन , सरकारी योजना को अंगूठा दिखाते हुवे, खूब चांदी काटने में लगे हुवे है ,
इतना ही नही सेल्समेन द्वारा पात्रता पर्ची में अंकित राशन से भी कम राशन दिया जाता है , साथ ही सेल्समेन नियमो को ताक में रखकर अपनी मनमर्जी से दुकान खोलते है और बंद  करते है ,ग्रामीणों का कहना है कि उन्हें अगले माह का अनाज मिला नही ओर इस माह भी अनाज के लिए इंतजार करना पड़ रहा है ऐसे में अंतरोदय कूपन धारकों के निवाले की शक्कर भी  सेल्समैन द्वारा डकार ली जाती है  बात गेंहू ओर केरोसिन की करे तो वह भी मापदंड के नियमों को ताक में रखकर दिया जाता है ,

क्या है पूरा मामला


ताजा मामला आदिमजाति सेवा सहकारी संस्था नोगावा द्वारा  संचालित शासकीय उचित मूल्य की दुकान तलावली का है , जहाँ ग्रामीणों का कहना है कि अंतरोदय कूपन (अति गरीब) वालो को सरकार द्वारा राहत दी गई थी ताकि उनको  शक्कर  मिल सके मगर उसके उल्टे अति गरीब परिवार वालो को आज तक शक्कर नही मिली , इतना ही नही सेल्समैन द्वारा पात्रता  पर्ची ,में अंकित राशन से भी कम अनाज दिया जाता है , इस मामले की खबर जब मीडिया को लगी तो मीडिया द्वारा ग्रामीणों से चर्चा की गई तो ग्रामीणों ने सेल्समैन पर आरोप लगाते हुवे , समय पर अनाज न मिलना , ओर कम राशन मिलने ,तथा अति गरीब परिवार के लोगो ने शक्कर न मिलने की बात कही इस मामले में जब सम्बंधित अधिकारी से चर्चा की गई तो उन्होंने हर बार की तरह मामले दिखवाने की बात कह कर अपना फोन काट दिया ,अब सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या वास्तव में अधिकारी सम्बंधित सेल्समैन पर कार्यवाही करेंगे या हमेशा कि तरह कुछ ले देकर मामले को ठंडा कर दिया जायेगा , या क्या वास्तव में कमलनाथ सरकार जो गरीबो की हितेषी सरकार है कि यह योजना गरीबो तक वास्तव में पहुँच पाएगी

क्या कहते है जिम्मेदार अधिकारी

इस मामले में सम्बंधित अधिकारी से फोन पर चर्चा की गई तो उन्होंने फोन उठाना उचित नही समझा , 
धर्मेंद्र सिंह ,कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी ,मेघनगर

शक्कर नाम मात्र की आती है , भी देखता हूं फिलहाल में रतलाम हु 
संजय नागर.प्रभारी आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था मर्यादित,नोगावा

See More

Latest Photos