मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार में वर्चस्व की लड़ाई को लेकर महाभारत दोबारा भयानक संकट में कमलनाथ सरकार*

Total Views : 2,522
Zoom In Zoom Out Read Later Print

मध्य प्रदेश ब्यूरो


MP: सिंधिया समर्थक मंत्री सहित 18 विधायक गायब, सभी के फोन बंद मध्यप्रदेश में फिर गहराया सियासी संकट!भोपाल से दिल्ली तक बढ़ी राजनीतिक हलचल सिंधिया समर्थक मंत्री सहित 18 विधायक गायब, सभी के फोन बंद गुना में श्रम मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया के घर के बाहर जुटे समर्थक

सीआईडी के अधिकारी जांच में जुटे


कांग्रेस सरकार मैं 3 गुट होने पर भुल गए जनता के विश्वास को पदों के लिए आपस में लड़ रहे हैं वर्चस्व की लड़ाई

 मध्यप्रदेश की राजनीति को देखते हुए आम जनता का राजनीतिक पार्टियों पर से उठ रहा है विश्वास

मध्यप्रदेश में मैं घमासान रुकने का नाम नहीं ले रहा है विश्वसनीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कमलनाथ सरकार अब वास्तव में संकट में नजर आ रही है आज मध्य प्रदेश के 18 विधायक जिसमें से 6 विधायक कैबिनेट में मंत्री हैं इन सभी के तीन अलग-अलग चार्टर प्लेन से बेंगलुरु में पहुंचने की खबर प्राप्त हो रही है यह सभी किसी रिसोर्ट में रुकवाय गए हैं प्राप्त जानकारी के अनुसार जैसे ही मध्यप्रदेश में विधानसभा का सत्र प्रारंभ होगा या उससे पहले ही  भारतीय जनता पार्टी अविश्वास प्रस्ताव पेश कर सकती है मिली जानकारी के अनुसार यह सभी 18 विधायक ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक माने जाते हैं अब देखना होगा कि मध्य प्रदेश की सरकार किस तरह अपना तख्त संभाल पाती है

 आम जनता के वोटों से जनता के द्वारा बनाए गए जनप्रतिनिधि अपने आप को करोड़ों में बेचने को है तैयार क्या आम जनता के द्वारा दिए गए वोटों की कीमत मानी जाए या उनके विश्वासों की नीलामी मध्य प्रदेश की जनता ने चुना था अपने जनप्रतिनिधि को पार्टी के साथ प्रदेश की उन्नति के कार्य के लिए ना की खुद की उनके वोटों को सरेआम नीलाम करने के लिए जिस तरह सरकार गिराने के लिए 11 विधायकों को 35 से 40 करोड़ों के ऑफर दिए जा रहे हैं उनको देखते हुए लगता है राजनीति केवल एक व्यापार बन कर रह गई जब भी चुनाव आते हैं चुनाव आयोग जनता से अपने मतों का उपयोग करने का आग्रह करती है पर क्या जनता के द्वारा दिए गए मतों को इस तरह सरेआम नीलाम किया जा सकता है इस तरह मतदाताओं के वोटों को व्यापार बना लिया जाए तो आने वाले चुनाव में जनता अपने मतों का उपयोग करने के लिए 10 बार सोचेगी जनता ने जिसको विधायक बनाया यदि वह इस प्रकार के सौदों में आता है तो यह उसके क्षेत्र के मोटरों का विश्वास तोड़ना ही माना जा सकता है या उनके साथ छलावा

See More

Latest Photos