कंपनी के कर्मचारियों ने कहा कि वेतन न मिला तो करेंगे हड़ताल

Total Views : 23
Zoom In Zoom Out Read Later Print

कंपनी के कर्मचारियों ने कहा कि वेतन न मिला तो करेंगे हड़ताल

शिमला। सिंचाई व जन स्वास्थ्य विभाग के 180 कर्मचारी तीन माह से वेतन का इंतजार कर रहे हैं। ये कर्मचारी जब से शिमला जल प्रबंधन निगम में जबरल शिफ्ट किए गए, उन्हें वेतन नहीं मिल रहा है। इसके विपरीत निगम में आउटसोर्स पर तैनात किए गए चहेते अफसरों पर निगम खुलकर अपना पैसा बहा रहा है। इससे खफा कर्मचारिओं ने अब निगम के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। भारतीय मजदूर संघ से जुड़े सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग कर्मचारी महासंघ ने इस मामले के लिए सीधे-सीधे निगम के प्रबंध निदेशक पर हमला बोला है। महासंघ के कार्यालय मंत्री दिनेश शर्मा वीरवार को यहां प्रेस कांफ्रेंस में निगम के एमडी पर आरोप लगाया कि उन्होंने कर्मचारियों के मामले पर सरकार को भी गुमराह किया। साथ ही कहा कि उन्होंने खुद को इस निगम में एमडी स्थापित किया, जबकि वह सिंचाई विभाग में एसई के पद पर ही थे। शर्मा ने कहा कि वे पिछले तीन माह से सरकार और विभाग से यह मामला उठा रहे हैं, लेकिन उनकी समस्या का कोई समाधान अभी तक नहीं हुआ है। साथ ही कहा कि इस मामले को जब विभाग से सचिव और मंत्री से उठाया, उन्होंने भी इस मामले में कर्मचारियों की हितों की पैरवी की, लेकिन अभी तक उन्हें कोई राहत नहीं मिली है। शर्मा ने कहा कि उनकी दो दिन से गेट मीटिंग के बाद सरकार ने उन्हें भरोसा दिया कि वेतन को जारी कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि यदि विभाग ने उनके वेतन को ट्रेजरी के माध्यम से उन्हें नहीं दिया तो वे हड़ताल पर जाने से भी गुरेज नहीं करेंगे।  

See More

Latest Photos