नाथ से बंद कमरे में मिले सिंधिया, डिनर में पहुंचे 27 मंत्री, 90 विधायक

Total Views : 120
Zoom In Zoom Out Read Later Print

नाथ से बंद कमरे में मिले सिंधिया, डिनर में पहुंचे 27 मंत्री, 90 विधायक

भोपाल . प्रदेश कांग्रेस के नए प्रदेशाध्यक्ष की अटकलों और सिंधिया खेमे के मंत्रियों व विधायकों की ब्यूरोक्रेसी से चल रही तनातनी के बीच लंच और डिनर पाॅलिटिक्स से सियासत गरमा गई। सिंधिया खेमे के स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट के यहां गुरुवार को डिनर से पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच करीब 25 मिनट तक बंद कमरे में मीटिंग हुई। इससे पहले लंच में भी दोनों साथ बैठे और अकेले में बातचीत की। इस मुलाकात को कुछ दिन पहले कमलनाथ और सिंधिया खेमे के मंत्रियों के बीच कैबिनेट बैठक के दौरान हुई बहस के बाद बने हालातों से जोड़कर देखा जा रहा है। यह भी कयास लगाए जा रहे हैं कि इस मुलाकात में प्रदेशाध्यक्ष को लेकर भी बात हुई।


इससे पहले सिंधिया विधानसभा भी पहुंचे और कई लोगों से मुलाकात की। उनके गुट के मंत्री गोविंद सिंह राजपूत, प्रद्युम्न सिंह तोमर, महेंद्र सिंह सिसोदिया, तुलसी सिलावट, प्रभुराम चौधरी व इमरती देवी भी उनके साथ रहीं। सूत्रों के मुताबिक सिंधिया ने इन मंत्रियों से कहा है कि वे अनावश्यक बयानबाजी से बचें। रात करीब साढ़े आठ बजे सिंधिया सिलावट के निवास पर डिनर में पहुंचे। रात करीब नौ बजे कमलनाथ भी डिनर में पहुंचे। इस डिनर में 90 विधायक और 27 मंत्री मौजूद थे, लेकिन दिग्विजय सिंह, अजय सिंह और पीसी शर्मा नजर नहीं आए।

सिंधिया... सीएम, मंत्री, अधिकारी सबको टीम भावना से काम करना होगा : मुख्यमंत्री हों, मंत्री हों या अधिकारी, सबको टीम भावना से काम करना होगा। किसी को किसी पर हावी होने की जरूरत नहीं है। यह बात सिंधिया ने मीडिया से चर्चा के दौरान मंत्रियों व अधिकारियों में तालमेल नहीं होने के बारे में पूछे गए प्रश्न के उत्तर में कही। सीएम व मंत्रियों में विवाद पर उन्होंने कहा कि यह हर परिवार में होता है। राहुल गांधी के इस्तीफे के संबंध में उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस के लिए गंभीर समय है। यही वह समय है जब पार्टी को रि-इनवेंट करना है।

नए अध्यक्ष का निर्णय जल्द होना चाहिए, क्योंकि अब सात हफ्ते बीत चुके हैं। राष्ट्रीय अध्यक्ष व प्रदेशाध्यक्ष के लिए उनका नाम चलने पर कहा कि वे सत्ता या पद की दौड़ में नहीं हैं और न रहेंगे। वहीं सिंधिया के साथ डिनर के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि हम लंच व डिनर में साथ बैठे। इसमें प्रदेश के विकास के मुद्दे पर चर्चा हुई।

खरीद फरोख्त की कोशिश होगी- सिंधिया ने कहा- भाजपा यहां भी खरीद फरोख्त की कोशिश करेगी, लेकिन हमारे सब विधायक साथ हैं और सरकार पूरे पांच साल चलेगी। इस बारे में किसी भी विधायक को कुछ बताने की जरूरत नहीं है। लोकसभा चुनाव में अपनी हार पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा कि मुझमें कोई कमी होगी, इसलिए ये परिणाम आया।

See More

Latest Photos