नई दिल्ली । दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर मिर्च फेंकने का आरोपी अनिल कुमार शर्मा पुलिस की पूछताछ में बार-बार अपना बयान बदल रहा है। पूछताछ करने वाले पुलिसवालों ने बताया कि उसकी मानसिक स्थिति सही नहीं लग रही है। दिल्ली पुलिस अब उसकी मेडिकल हिस्ट्री पता करने का प्रयास कर रही है। 
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर किए गए हमले की जांच में हमलावर का किसी किसी राजनीति दल से सीधे संबंध नहीं मिला है। दिल्ली पुलिस ने शर्मा को बुधवार को कोर्ट में पेश किया है। उल्लेखनीय है कि मंगलवार दोपहर दिल्ली सचिवालय में शर्मा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के चेहरे पर मिर्च फेंककर हमला कर दिया था। केजरीवाल पर हमले के बाद आम आदमी पार्टी ने दिल्ली पुलिस पर निशाना साधते हुए इसे मुख्यमंत्री की सुरक्षा में सेंध बताया है। आम आदमी पार्टी ने दिल्ली पुलिस पर आरोप लगाया कि वह सीएम की सुरक्षा करने में पूरी तरह से नाकाम है। अनिल शर्मा को घटना के आठ घंटे बाद मंगलवार रात पुलिस ने हिरासत में लिया था। 
हमलावर ने अपने फेसबुक अकाउंट पर खुद को यूपी के खुर्जा के एनआरईसी कॉलेज का छात्र और भाजपा का सक्रिय सदस्य बताया है। उसने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर दक्षिणपंथी विचारधारा से मेल खाती कुछ पोस्ट भी की हैं। इसके अलावा उसने अपनी कई पोस्ट्स में अयोध्या में जल्द राम मंदिर बनवाने की मांग भी की है। पुलिस द्वारा दबोचे जाने के बाद भी वह केजरीवाल की आलोचना कर रहा था, उसने कहा अरविंद केजरीवाल देशद्रोही है, जबकि भाजपा सच्चे देशभक्तों की पार्टी है। केजरीवाल पर हमला करने वाले कुमार से पूछताछ का एक वीडियो सामने आया है। पूछताछ में वह कह रहा है कि मैं केजरीवाल से इसलिए नफरत करता हूं, क्योंकि वह पिछले 9 सालों से उल्लू बना रहे हैं। मैं एक सच्चा देशभक्त हूं। केजरीवाल मेरा टारगेट हैं और मैं उन्हें मारना चाहता हूं। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसकी एक 11 साल की बेटी भी  है। वह स्वयं गुड़गांव की एक निजी क्षेत्र की कंपनी में काम करता है। पूछताछ में उसने बताया कि वह दिल्ली के राजौरी गार्डन में एक पेइंग गेस्ट के रूप में रहता है।