भोपाल ।मध्यप्रदेश विधानसभा में आज नेता प्रतिपक्ष के पद के लिए भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री गोपाल भार्गव के नाम की घोषणा विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर दीपक सक्सेना द्वारा की गई। इसके तत्काल बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने श्री भार्गव को बधाई देते हुए कहा कि श्री भार्गव वरिष्ठ एवं अनुभवी राजनेता है। उनके साथ मिलकर प्रदेश की विधानसभा की गरिमा का ख्याल रखकर प्रजातंत्र की मजबूती के लिए काम किया जाएगा। 
     नेता प्रतिपक्ष बनाए जाने पर गोपाल भार्गव ने आभार व्यक्त करते हुए कहा कि मेरा पूरा प्रयास होगा कि मध्यप्रदेश विधानसभा की श्रेष्ठ परंपराओं को कायम रखूं और उनका भलि भांति पालनपोषण कर सकूं। उन्होंने कहा कि देश और दुनिया में प्रदेश की विधानसभा की शान बढाने के लिए सत्तापक्ष के साथ मिलकर काम करेंगे। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि हमारे दल के सदस्यों द्वारा जो प्रश्न विधानसभा में पूछे जाएंगे मैं आशा करता हूं कि सरकार द्वारा उनका सही एवं समाधानकारक जवाब दिया जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि विधानसभा प्रदेश की जनता का प्रतिबिंब होती है, सभी को मिलकर इसकी परंपराओं को आगे बढाना है। उन्होंने एक बार फिर से विधासभा के सभी सदस्यों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि वे विपक्ष का नेता होने के नाते जहां गडबडी होने पर सरकार चेताने का काम करेंगे, वहीं बेहतर काम होने पर सरकार को बधाई भी देने से नहीं चुकेंगे।