ग्वालियर। महापौर विवेक नारायण शेजवलकर के प्रयासों से बलवंत नगर की अधिकांश सड़कों का डामरीकरण हुआ उसके लिए बलवंत नगर रहवासी संघ महापौर का आभारी है। उक्त उद्गार आज बलवंत नगर में आज की चाय पीने के लिए पहुंचे महापौर श्री शेजवलकर के सम्मान में बलवंत नगर रहवासी संघ के अध्यक्ष श्री कायम सिंह कुशवाह द्वारा महापौर का स्वागत करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि बलवंत नगर शहर की ऐसी कॉलोनी है जिसमें नगर निगम द्वारा सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं लेकिन क्षेत्र में अनेक कार्य स्वीकृत हो कर प्रारंभ होने की बाट जोह रहे हैं। उन्होंने महापौर से सभी स्वीकृत कार्यों को प्रारंभ कराए जाने का अनुरोध किया।
महापौर विवेक नारायण शेजवलकर ने ‘आज की चाय आपके साथ’ कार्यक्रम के तहत रविवार को वार्ड 30 के विभिन्न क्षेत्रों में निरीक्षण करते हुए रहवासियों की समस्याएं सुनकर उनका तत्काल निराकरण कराने के निर्देश दिए। इस मौके पर एमआईसी सदस्य धर्मेन्द्र राणा, पार्षद दिनेश दीक्षित, जनप्रतिनिधि जीतेन्द्र यादव, उपायुक्त एपीएस भदौरिया, डा अतिबल सिंह यादव, क्लस्टर अधिकारी सुरेश अहिरवार, खेल अधिकारी बृजकिशोर त्यागी, पार्क अधीक्षक मुकेश बंसल सहित नगर निगम के अन्य सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।
महापौर श्री शेजवलकर द्वारा आज निरीक्षण के दौरान बलवंत नगर के जीर्णशीर्ण हो चुके समुदायिक भवन की छत की मरम्मत तथा लेट्रिन बाथरूम की मरम्मत कराए जाने के निर्देश उपायुक्त एपीएस भदौरिया को दिए। इस पर उन्होंने तीन दिवस के अंदर कार्य का अनुमापन बनाकर टेंडर बुलाए जाने का आश्वासन दिया। रहवासी संघ द्वारा अनिल त्रिपाठी के निवास से बरगद तक अधूरी पड़ी सड़क निर्माण की भी मांग की तथा कुटुंब अपार्टमेंट के पीछे की रोड के निर्माण की भी मांग की। जिस पर सहायक यंत्री श्री अहिरवार द्वारा बताया गया उक्त सड़कों के टेंडर का कार्य हो चुका है शीघ्र ही उक्त कार्य प्रारंभ कर दिया जाएगा। लेकिन इससे पूर्व सीवर और अमृत योजना का कार्य पूर्ण होना है इसलिए कार्य में विलंब हो रहा है। नागरिकों द्वारा कृष्णा अपार्टमेंट के सामने अनुपयोगी हो चुके सीवर टैंक की भूमि पर वाचनालय बनाने की मांग की। नागरिकों द्वारा बताया गया कि इस स्थान पर वाचनालय के लिए 2 लाख रुपए स्वीकृत होकर पूर्व में शिलान्यास भी हो चुका है किंतु वाचनालय का निर्माण प्रारंभ नहीं हुआ है। महापौर द्वारा तत्काल उपायुक्त श्री भदौरिया को शासकीय भूमि पर वाचनालय तथा ओपन जिम बनाने के निर्देश दिए। पार्षद वार्ड क्रमांक 30 द्वारा महापौर श्री शेजवलकर को अवगत कराया गया कि क्षेत्र में 14 लाख की सीसी सड़क स्वीकृत है लेकिन अमृत योजना के कार्य की धीमी गति के कारण सड़क निर्माण नहीं कराया जा पा रहा है। महापौर ने अमृत योजना के आर आई अखिलेश्वर सिंह को अमृत योजना के कार्य तत्काल प्रारंभ कराए जाने के निर्देश दिए।
वार्ड क्रमांक 30 की सबसे बड़ी समस्या क्षेत्र में बरसात के समय कॉलोनियों में जलभराव की है नागरिकों द्वारा महापौर से बरसात में 3-3 फुट जल कॉलोनियों में भर जाने की शिकायत की, इस पर महापौर द्वारा मौके पर मौजूद उपायुक्त श्री एपीएस भदौरिया से स्थाई समाधान हेतु व्यवस्था करने के लिए निर्देशित किया। श्री भदौरिया द्वारा महापौर को बताया कि जलभराव का मूल कारण कॉलोनी के निर्माण से पूर्व इस स्थान पर एक डैम था जिसका संपूर्ण केचमेंट एरिया इस कॉलोनी की ओर आता है। इसके स्थाई निराकरण के लिए महापौर द्वारा कॉलोनी के वर्षा जल को सिल्वर एस्टेट के बाहर बने स्टॉर्म वाटर कैनाल से जोड़ने के निर्देश दिए। उक्त कार्य का अनुमापन तत्काल तैयार करने तथा शीघ्र कार्य कराए जाने के निर्देश महापौर द्वारा दिए गए।
कॉलोनी में निरीक्षण के दौरान अनेक रहवासियों द्वारा रिक्त पड़ी शासकीय भूमि पर भू माफियाओं द्वारा कब्जा किए जाने के प्रयासों की शिकायत की। महापौर श्री शेजवलकर द्वारा मौके पर मौजूद निगम अधिकारियों को निर्देशित किया की जितनी भी शासकीय भूमि कॉलोनी में रिक्त हैं उनमें पार्क इत्यादि विकसित कराए जाएं ताकि उनका भू माफियाओं द्वारा कब्जा रोका जा सके।
अमृत योजनाओं के पेयजल तथा सीवर कार्यों के कारण वार्ड का विकास प्रभावित हो रहा है। श्री शेजवलकर द्वारा इस संबंध में अमृत योजना के आरई से शीघ्र कार्य पूर्ण कराने का निर्देश दिया। आर ई अखिलेश्वर सिंह द्वारा 15 दिन में अमृत और सीवर का कार्य पूर्ण करने का आश्वासन महापौर को मौके पर दिया।
निरीक्षण के दौरान महापौर एक मंदिर के सामने जब पहुंचे तो वहां एक खाली प्लॉट पर राइजिंग होम सोसाइटी के रहवासियों द्वारा निरंतर कचरा डालने से भारी मात्रा में कचरा पाया गया। महापौर द्वारा नाराजगी व्यक्त किए जाने पर उपायुक्त श्री भदौरिया द्वारा राइजिंग ऑन सोसाइटी के रहवासियों को बुलाकर हिदायत दी यदि वे अपने सोसायटी का कचरा सड़क पर डालेंगे तो उन पर जुर्माना वसूलने की कार्यवाही की जाएगी। सोसायटी द्वारा सहमति दी गई है कि वह अपने यहां ड्रम अथवा बड़े डस्टबिन सोसाइटी में रखेंगे। जिन्हें प्रतिदिन नगर निगम की कचरा वाहन से उठाया जाएगा।
महापौर ने दिए यह निर्देश
1.    बलवंत नगर सामुदायिक भवन का जीर्णोद्धार।
2.    श्री अनिल त्रिपाठी के मकान के सामने से बरगद तक रोड का निर्माण।
3.    कुटुंब अपार्टमेंट के पीछे की रोड का निर्माण।
4.    कृष्णा अपार्टमेंट के सामने निगम के अनुपयोगी सीवर चैंबर पर वाचनालय तथा ओपन जिम का निर्माण।
5.    शांति टेरेस से राठौर के मकान तक 100 फुट सीवर लाइन का निर्माण।
6.    बलवंत नगर एक्सटेंशन ई ब्लॉक में बरसात के दौरान जलभराव तथा सीवर की समस्या का निराकरण।
7.    बलवंत नगर ई 16 के सामने रिक्त पड़े शासकीय भूमि पर पार्क का निर्माण।
8.    बरगद से श्री मधुसूदन भदौरिया के घर तक सड़क निर्माण।