नई दिल्ली । लंबी दूरी की तैराक मीनाक्षी पाहुजा ने तीसरी बार लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में अपना नाम दर्ज कराने के साथ ही एक अहम उपलब्धि अपने नाम की है। 42 वर्षीय पाहुजा ने लेक कोन्सटेंस को सफलतापूर्वक पार करने के बाद यह उपलब्धि हासिल की। उन्होंने जर्मनी के फ्रेडरिचशाफीन से स्विटजरलैंड के रोमनशार्न तक 11.6 किमी की दूरी को पांच घंटे 18 मिनट 23 सेकेंड में तैरकर पूरा किया किया। इसके लिए उनका नाम लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स से दर्ज किया गया। मीनाक्षी पहली ऐसी भारतीय तैराक हैं जिन्होंने पांच अलग-अलग लेक को पांच दिनों में पार किया है। इनमें लेक बुकानन, इंक्स लेक, लेक एलबीजे, लेक मार्बल फॉल्स और लेक ट्रेविस शामिल हैं। यह सभी लेक अमेरिका के टेक्सास में है।