ntv time deepak tiwari
 


नागपुर: बिहार के उपमुख्यमंत्री ने शुक्रवार को भाजपा के असंतुष्ट सांसद को कांग्रेस या राजद के टिकट पर पटना से आगामी लोकसभा चुनाव लड़ने की चुनौती दी और दावा किया कि इससे उन्हें अपनी लोकप्रियता का ‘‘भ्रम’’ दूर हो जाएगा। सुशील मोदी भाजपा के ‘‘भारत के मन की बात’’ कार्यक्रम में भाग लेने के लिए नागपुर में थे। इस कार्यक्रम का मकसद आगामी लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा का घोषणा पत्र तैयार करने की खातिर आम लोगों से सुझाव प्राप्त करना है।

सिन्हा द्वारा अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं की बार-बार प्रशंसा किए जाने तथा अपनी पार्टी पर निशाना साधने के बारे में पूछे जाने पर सुशील मोदी ने कहा कि यह उस स्थिति का संकेतक है जिसमें वह खुद को पाते हैं। सुशील मोदी ने दावा किया, "कुछ लोगों को अपनी लोकप्रियता को लेकर गलतफहमी है। मैं उन्हें चुनौती देता हूं कि वह पटना सीट कांग्रेस या राजद से लड़ें, उन्हें अपनी वास्तविक स्थिति का एहसास हो जाएगा। उन्हें एहसास हो जाएगा कि उनकी लोकप्रियता कितनी है।’’

उन्होंने कहा, "वे दिन अब नहीं रहे जब शत्रुघ्न सिन्हा के नाम पर लोग जुटते थे। अब, उन्हें अपनी रैली के लिए लोगों को इकट्ठा करने में परेशानी होती है। वह प्रियंका चोपड़ा या कोई अन्य नया कलाकार नहीं हैं। मोदी ने बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राजद नेता तेजस्वी यादव पर भी निशाना साधा और दावा किया कि उन्हें संपत्ति से ‘‘काफी लगाव’’ है।

उच्चतम न्यायालय ने बिहार में उपमुख्यमंत्री के लिये आरक्षित सरकारी बंगला खाली करने के आदेश के खिलाफ दायर तेजस्वी यादव की याचिका शुक्रवार को खारिज कर दी। न्यायालय ने सरकारी बंगला खाली करने संबंधी पटना उच्च न्यायालय के फैसले को चुनौती देने पर तेजस्वी यादव पर 50,000 रूपए का जुर्माना भी किया है।