छत्तीसगढ़ के राजनांदगाव जिले में 9 माह पूर्व हुए ट्रक चालक की अंधे कत्ल की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है. ट्रक के क्लीनर ने ही आपसी रंजीश के कारण ड्राइवर की हत्या की थी. मामले में लालबाग पुलिस की टीम ने आरोपियों को पंश्चिम बंगाल से गिरफ्तार किया है.

बता दें कि 9 माह पहले लालबाग थाना क्षेत्र के तुमडीबोड चौकी क्षेत्र के कोपेडीह तालाब के सामने जीई रोड के किनारे खड़े पश्चिम बंगाल के ट्रक में कंबल से ढका हुआ चालक का शव मिला था. पुलिस ने तब हत्या का मामला दर्ज कर अलग-अलग विशेष टीम बनाकर जांच शुरू की, जिसके बाद पुलिस पश्चिम बंगाल रवाना हुई.

पुलिस ने संदेह के आधार पर पश्चिम बंगाल जिला चोबिस परगना पहुंचकर आरोपी क्लीनर के ठिकाने पर निगाह रखकर पतासाजी की जा रही थी, लेकिन संदेही क्लीनर अपने ठिकाने लगातार बदल रहा था. इस पर राजनांदगांव लालबाग थाना पुलिस ने आरोपी के निवास को चिन्हित कर थाना जगदल के लोकल पुलिस स्टाफ की मदद से उसके घर को घेराबंदी कर दबोच लिया.

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि आपसी रंजीश के चलते शराब के नशे में चक्का खोलने वाले पाने से उसने ड्राइवर हेंमत झा के सिर पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया, जिससे उसकी मौके पर मौत हो गई. इसके बाद लाश को कंबल में ढककर रस्सी से बांधकर लाश को ट्रक के अंदर छोड़कर भाग गया. बहरहाल, अब पुलिस ने आरोपी को पंश्चिम बंगाल से पकड़कर सलाखों के पीछे भेज दिया है.