चंदु शर्मा 
 
स्वाइन फ्लू का कहर देशभर में बढ़ता ही जा रहा है. इस बीमारी का सबसे ज्यादा प्रभाव राजस्थान में देखने को मिल रहा है.
 
पूरे देश से कुल 6,000 केस सामने आए हैं जबकि केवल राजस्थान में ये आंकड़ा 2,706 है. इस बीमारी से पूरे देश से कुल 225 लोगों की जानें जा चुकी है जबकि 107 मौत सिर्फ राजस्थान में हुई है.
 
 गुजरात दूसरे स्थान पर है, जहां 54 लोगों की मौतें हुई हैं. पंजाब में 30 मौतें सामने आई है जबकि 301 मामले दर्ज किए गए हैं. वहीं मध्य प्रदेश में मौतों का आंकड़ा 16 है. वहीं, महाराष्ट्र में 12 के मौत की खबर है जबकि 197 प्रभावित केस सामने आए हैं. 
 
क्या है स्वाइन फ्लू के लक्षण?
 
▪ छींक आना
▪ कफ, कोल्ड और लगातार खांसी 
▪ मांसपेशियों में दर्द या अकड़न 
▪ सिर में भयानक दर्द
▪ नींद न आना, ज्यादा थकान 
▪ दवा खाने पर भी बुखार का लगातार बढ़ना 
▪ गले में खराश का लगातार बढ़ते जाना
 
ऐसे करें बचाव :
 
▪ स्वाइन फ्लू से बचाव इसे नियंत्रित करने का सबसे प्रभावी उपाय है.
▪ आराम, खूब पानी पीना, शरीर में पानी की कमी न होने देना.
▪ बीमारी के बढ़ने पर एंटी वायरल दवा ओसेल्टामिविर (टैमी फ्लू) और जानामीविर (रेलेंजा) जैसी दवाओं से स्वाइन फ्लू का इलाज किया जाता है.
▪ डॅाक्टरी परामर्श के बाद ही दवा का सेवन करें.