मुंबई । बालीवुड के खलनायक शक्ति कपूर का कहना है कि उन्होंने महेश आनंद को शराब छोडने के लिए कहा था।महेश के निधन के बाद अब अभिनेता शक्ति कपूर ने भी उनको लेकर बड़ा खुलासा किया है। शक्ति कपूर ने कहा कि महेश को एक लंबे अरसे से कोई काम नहीं मिला था, जिसकी वजह से वो काफी उदास थे। उन्होंने कहा, काम नहीं मिलने की वजह से महेश उदास थे और वो शराब के आदी भी हो गए थे। शराब के नशे में वो लोगों को बुलाते थे। पहलाज जी ने उन्हें अपनी फिल्म के क्लाइमैक्स में एक छोटा सा रोल दिया, जिसमें उन्होंने अच्छा काम किया था। शक्ति कपूर के मुताबिक पहलाज जी (निहलानी) ने महेश को शराब पीने से रोका था, लेकिन वो नहीं रुके। उन्होंने बताया, मैंने भी उन्हें शराब छोड़ने के लिए कहा था क्योंकि मैंने इसी तरह का मामला कुछ सालों पहले देखा था जब गेविन (गेविन पैकर्ड) की मौत हुई थी। मालूम हो कि बालीवुड अभिनेता एवं खलनायक महेश आनंद की बीते 9 फरवरी को उनके ही घर में लाश मिली। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जब पुलिस और उनकी बहन दरवाज़ा तोड़ कर अंदर पहुंचे तो उन्हें वहां महेश का शव मिला। दो दिनों तक लगातार उनके घर के सहायक के बेल बजाने के बाद भी जब अंदर से दरवाज़ा नहीं खोला गया तो उन्होंने इसकी शिकायत की थी। रिपोर्ट्स के मुताबिक उनके शव के पास से शराब से भरी एक ग्लास मिली, हालांकि किसी तरह का कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं किया गया है। पुलिस ने इस मामले में एक्सिडेंटल डेथ रिपोर्ट (एडीआर) दर्ज कर ली है। महेश आनंद के मौत की वजह अब तक साफ नहीं हो पाई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही तस्वीर साफ होने की उम्मीद है। हालांकि कुछ रिपोर्ट्स का दावा है कि महेश पिछले कई सालों से गुमनामी में जी रहे थे, जिसकी वजह से वो डिप्रेशन में चले गए थे। महेश ने बॉलीवुड के कई बड़े सितारों के साथ स्क्रीन स्पेस साझा किया है, जिनमें गोविंदा, सनी देओल, संजय दत्त, अमिताभ बच्चन और धर्मेंद्र जैसे कलाकार शामिल हैं। महेश आनंद आखिरी बार प्रोड्यूसर पहलाज निहलानी की फिल्म रंगीला राजा में एक छोटे से रोल में नज़र आए थे। इस फिल्म में गोविंदा और शक्ति कपूर जैसे कलाकार भी थे। फिल्म 18 जनवरी को सिनेमाघरों में रिलीज़ हुई थी। आपको बता दें कि महेश विलेन के किरदारों को निभाने के बाद काफी मशहूर हुए थे। 90 के दशक में वो कई बड़ी फिल्मों का हिस्सा रहे। उन्हें कुरुक्षेत्र, कूली नंबर वन, शहंशाह, स्वर्ग, थानेदार, आया तूफान और प्यार किया नहीं जाता जैसी फिल्मों के लिए याद किया जाता है।