Thursday, June 30, 2022
Homeदेशअफगानिस्तान के 43 कैडेट का अंतिम बैच IMA से होगा पास, तालिबान...

अफगानिस्तान के 43 कैडेट का अंतिम बैच IMA से होगा पास, तालिबान शासन में अधर में लटका भविष्य!


देहरादून/काबुल. भारतीय सैन्य अकादमी में इस शनिवार को 377 कैडेट पास आउट होंगे. इसमें अफगानिस्तान के 43 कैडेट्स का अंतिम बैच भी शामिल है. आईएमए में 11 जून को होने वाली पासिंग आउट परेड के दौरान अपने भारतीय बैच के साथियों के साथ अफगानिस्तान के 43 कैडेट्स का अंतिम बैच पास आउट होगा. दरअसल, पिछले साल अगस्त में जब से तालिबान सत्ता में आया है, अफगान राष्ट्रीय सेना का अस्तित्व समाप्त हो गया है.

‘टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, आईएमए में 83 अफगान जेंटलमैन कैडेट थे, जब तालिबान ने पिछले साल 15 अगस्त को उस देश पर कब्जा कर लिया था. उस संख्या में से 40 ने पिछले साल दिसंबर में अकादमी से ग्रैजुएशन की उपाधि प्राप्त की, जबकि शेष 43 कैडेट 11 जून को परेड में पास आउट होंगे. आईएमए से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि जब से अफगानिस्तान में तालिबान सत्ता में आया है, कोई नया कैडेट प्रशिक्षण के लिए आईएमए नहीं आया.

भारत से अफगानिस्तान जा रही मदद लूट रहा पाकिस्तान, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

अफगानिस्तान के जवान कहां जाएंगे, कैसे जाएंगे. इस बारे में भारत सरकार की तरफ से अभी तक हमारे पास कोई भी जानकारी नहीं आई है. फिलहाल पूरा फोकस आईएमए की परेड पर है और जिस तरह से भारत के जवान तैयारी कर रहे हैं उनके साथ सेना के अधिकारी लगे हुए हैं. उसी तरह से अफगानिस्तान के भी जवान पूरी मेहनत से यहां तक पहुंचे हैं. आगे का फैसला भारत सरकार करेगा.

तालिबान के हाथों में भविष्य
शौर्य चक्र विजेता रिटायर्ड कर्नल राकेश सिंह कुकरेती ने बताया कि देहरादून IMA से पास आउट होने वाले अफगानिस्तान के सैन्य अधिकारियों को उनके देश के हालात सामान्य होने तक रोका जा सकता है. कर्नल कुकरेती ने बताया कि तालिबान सरकार की डिमांड पर IMA से पास आउट हुए अफगानिस्तान के कैडेट्स को वापस भेजा जा सकता है. इसके अलावा कुकरेती ने बताया कि अगर वे भारत में ही अपने सेवा देना चाहते हैं तो इसके लिए भारत सरकार को निर्णय लेना होगा.

2018 में 49 अफगान कैडेट्स हुए थे पास
साल 2018 में 49 अफगानी कैडेट्स पास आउट हुए थे. दिसंबर 2020 में 41 और जून 2021 में 43 अफगानी कैडेट्स पास आउट हुए थे. 40 अफगानी कैडेट दिसंबर 2021 में पास आउट हुए. इस बार 43 कैडेट्स जून 2022 POP में पास आउट होंगे. IMA में अफगानिस्तान के अलावा भूटान, नेपाल, श्रीलंका, तजाकिस्तान, मालदीव और वियतनाम समेत 18 मित्र राष्ट्रों के जेंटलमैन कैडेट्स हर साल ट्रेनिंग लेते हैं.

अफगानिस्तान: तालिबान ने मॉडल समेत 4 लोगों को हिरासत में लिया, धार्मिक अपमान का है आरोप

इस बार भारतीय सेना को मिलेंगे 288 युवा अफसर
इस बार आईएमए में 11 जून को होने वाली पासिंग आउट परेड के बाद भारतीय सेना को 288 युवा अफसर मिलेंगे. इसके अलावा 8 मित्र देशों की सेना को भी 89 सैन्य अधिकारी मिलेंगे. अब तक आईएमए के नाम देश​-विदेश की सेना को 63 हजार 768 युवा सैन्य अफसर देने का गौरव जुड़ा है. इनमें 34 मित्र देशों को मिले 2,724 सैन्य अधिकारी भी शामिल हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल अमरदीप सिंह होंगे रिव्यूइंग अफसर
भारतीय सैन्य अकादमी से शनिवार को 377 कैडेट पास आउट होंगे, जिसमें 288 भारतीय सेना का हिस्सा बनेंगे, जबकि 89 विदेशी कैडेट हैं. भारतीय सैन्य अकादमी की 11 जून को होने वाली पासिंग आउट परेड में लेफ्टिनेंट जनरल अमरदीप सिंह भिंडर रिव्यूइंग अफसर होंगे. वह दक्षिण पश्चिमी कमान के कमांडर (जनरल आफिसर कमांडिंग-इन-चीफ) हैं और बतौर मुख्य अतिथि परेड की सलामी लेंगे.

Tags: Afghanistan, IMA, Indian Military Academy, Taliban



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments