Thursday, June 30, 2022
Homeदेशउत्तराखंड में IAS अफसरों की भारी कमी, सरकार को 126 की जरूरत,...

उत्तराखंड में IAS अफसरों की भारी कमी, सरकार को 126 की जरूरत, तैनात हैं बस इतने


देहरादून. आईएएस अफसरों की भारी कमी से जूझ रहे उत्तराखंड के लिए थोड़ी राहत भरी खबर है. केंद्र सरकार ने राज्य सरकार की मांग पर उत्तराखंड का आईएएस का कॉडर 120 की जगह बढ़ाकर 126 कर दिया है. हालांकि उत्तराखंड अपना आईएएस कॉडर बढ़ाकर 139 करने की मांग कर रहा था, लेकिन केंद्र ने उसके इस प्रस्ताव को यह कहकर रदद कर दिया था कि पांच साल में पांच फीसदी पद से ज्यादा नहीं बढ़ाए जा सकते हैं.

दरअसल केंद्र हर दस साल में अखिल भारतीय सेवा संवर्ग के ढांचे का रिव्यू करता है. राज्य में 2010 में आईएएस का कॉडर 120 पदों का किया गया था. 2010 में राज्य सरकार ने इस संवर्ग में कोई नया पद न बढ़ाने का निर्णय लेते हुए केंद्र को अपनी मंशा से अवगत करा दिया था, लेकिन राज्य सरकार को अब अफसरों की आवश्यकता महससू हो रही है.

कॉडर बढ़ा, लेकिन कमी अभी है
कॉडर के छह पद बढ़ाने के बावजूद उत्तराखंड आईएएस अफसरों की भारी कमी से जूझ रहा है. हालत ये है कि कॉडर पोस्ट 126 के विपरीत उत्तराखंड में 76 आईएएस अफसर ही कार्यरत हैं. इनमें से भी सात अफसर केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर हैं. यानी कुल 69 अफसरों के भरोसे ही सरकार का कामकाज चल रहा है. जबकि अफसरों की कमी के कारण बडे़ पैमाने पर कामकाज प्रभावित हो रहा है. हालत ये हैं कि एक-एक अफसर के पास कई-कई विभागों का जिम्मा है

ये अफसर हैं केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर
1985 बैच के अनूप वाधवन, 2006 बैच के आशीष जोशीख्‍ 2008 बैच के श्रीधर बाबू अददांकी, 2009 बैच के ज्योति यादव और राघव लांगर, 2012 बैच के मंगेश घिल्डियाल और 1999 बैच के अमित सिंह नेगी केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर हैं.

Tags: IAS Officer, Pushkar Singh Dhami, Uttarakhand Government



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments