Thursday, August 18, 2022
Homeदेशकोलकाता: CISF के जवान ने अपने ही साथी कर्मियों पर AK-47 से...

कोलकाता: CISF के जवान ने अपने ही साथी कर्मियों पर AK-47 से की ताबड़तोड़ फायरिंग, एक की मौत


हाइलाइट्स

गोली चलाने वाले हेड कांस्टेबल ए. के.मिश्रा ने एके47 राइफल से सहायक उपनिरीक्षक रंजीत सारंगी की हत्या कर दी.
आरोपी हेड कांस्टेबल का दावा है कि यूनिट में उसे परेशान किया जा रहा था. उसे गिरफ्तार कर लिया गया है.
सीआईएसएफ दिसंबर, 2019 से भारतीय संग्रहालय की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाल रहा है.

कोलकाता: कोलकाता (Kolkata) में स्थित भारतीय संग्रहालय में तैनात सीआईएसएफ (CISF) के एक जवान ने रविवार की शाम कथित रूप से अपने दो सहकर्मियों को गोली मार दी. इस घटना में जवान के एक वरिष्ठ सहकर्मी की मौत हो गई जबकि एक अन्य अधिकारी घायल हो गया है.

अधिकारियों ने बताया कि कथित रूप से गोली चलाने वाले हेड कांस्टेबल ए. के.मिश्रा ने एके47 राइफल से सहायक उपनिरीक्षक रंजीत सारंगी की हत्या कर दी जबकि सहायक कमांडेंट रैंक के अधिकारी सुवीर घोष हल्के जख्मी हुए हैं.

आरोपी हेड कांस्टेबल का दावा है कि यूनिट में उसे परेशान किया जा रहा था. उसे गिरफ्तार कर लिया गया है. अर्द्धसैनिक बल के एक अधिकारी ने बताया कि सीआईएसएफ के महानिरीक्षक (दक्षिण पूर्व) सुधीर कुमार के मौके पर पहुंचने पर आरोपी मिश्रा ने आत्मसमर्पण कर दिया.

साथी कर्मियों पर खाली कर दी पूरी मैग्जीन
कोलकाता पुलिस ने भी बताया कि सीआईएसएफ के अधिकारियों ने मिश्रा को हथियार डालने और आत्मसमर्पण करने के लिए मनाया. आरोप है कि मिश्रा ने यूनिट के हथियारखाने से जबरदस्ती हथियार लिया और पूरी मैगजीन लोगों पर खाली कर दी.

गोलीबारी में घायल हुए दो लोगों को सरकारी एसएसकेएम अस्पताल ले जाया गया, जहां सारंगी की मौत हो गई.सीआईएसएफ ने घटना के कारणों का पता लगाने के लिए कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी का आदेश दिया है.

सीआईएसएफ का एक जवान घायल
कोलकाता के पुलिस आयुक्त विनीत गोयल ने बताया, ‘‘घटना शाम करीब साढ़े छह बजे की है. सीआईएसएफ के एक जवान की मौत हो गई है जबकि दूसरा घायल है. हमने आरोपी हेड कांस्टेबल को गिरफ्तार कर लिया है.’’ उन्होंने बताया कि संग्रहालय में गोलीबारी की सूचना पाकर पुलिस उपायुक्त एक लड़ाकू दस्ते और त्वरित प्रतिक्रिया दल के साथ मौके पर पहुंचे.

गोयल ने पत्रकारों को बताया, ‘‘हम सीआईएसएफ के संपर्क में हैं.हमने आरोपी को हथियार डालने के लिए सफलतापूर्वक मना लिया है.हम मामले की जांच कर रहे हैं.’’ भारत के सबसे ‘पुराने और बड़े’ संग्रहालय परिसर में बनी बैरकों में आज शाम यह घटना हुई.

केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) दिसंबर, 2019 से संग्रहालय की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाल रहा है.कोलकाता के मध्य स्थित संग्रहालय केन्द्रीय संस्कृति मंत्रालय के तहत एक स्वायत्त संगठन है.

Tags: CISF, Kolkata, Kolkata Police, West bengal





Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments