Saturday, October 1, 2022
Homeदेशगहलोत के इरादों पर फिरेगा पानी? CM कुर्सी की रेस में पायलट...

गहलोत के इरादों पर फिरेगा पानी? CM कुर्सी की रेस में पायलट ने पकड़ी रफ्तार! दिन-रात कर रहे यह काम


जयपुर: कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव लिए जब से अशोक गहलोत की दावेदारी पक्की हुई है, तब से ही राजस्थान में अगले मुख्यमंत्री को लेकर सियासी सरगर्मियां तेज हो गई हैं. एक ओर जहां राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव की तैयारियों में जुटे हैं, वहीं दूसरी ओर सचिन पायलट भी अपनी संभावनाओं पर मेहनत कर रहे हैं. दरअसल, यह माना जा रहा है कि अगर अशोक गहलोत कांग्रेस के अगले अध्यक्ष बनते हैं तो ऐसी स्थिति में ‘एक आदमी एक पद’ सिद्धांत के तहत उन्हें मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़नी पड़ेगी. अगर ऐसा होता है तो फिर राजस्थान को नया मुख्यमंत्री मिलेगा और इस रेस में अभी सचिन पायलट सबसे आगे चल रहे हैं.

अशोक गहलोत के केंद्र की राजनीति की ओर बढ़ते कदम के बीच नए सीएम के दावेदारों में सबसे आगे चल रहे सचिन पायलट ने शुक्रवार देर रात तक करीब 50 विधायकों से मिले. सचिन पायलट कुछ विधायकों से विधानसभा में तो कुछ से अपने सरकारी आवास पर मिले. इतना ही नहीं, उन्होंने शुक्रवार को दिन से लेकर रात तक करीब 50 विधायकों से फोन पर बात की, जिनमें कांग्रेस के अलावा निर्दलीय विधायक भी शामिल हैं. सूत्रों की मानें तो अशोक गहलोत सचिन पायलट के सीएम बनने के पक्ष में नहीं दिख रहे हैं. यही वजह है कि गहलोत ने अब तक इस मसले पर पूरी तरह से सरेंडर नहीं बोला है.

पायलट के साथ सीपी जोशी भी रेस में
राजस्थान में बात और मुलाकातों का दौर यहीं खत्म नहीं हुआ. सचिन पायलट ने राजस्थान विधानसभा के अध्यक्ष सीपी जोशी से भी मुलाकात की और उनके साथ लंबी राजनीतिक चर्चा की. हालांकि, इस बात की जानकारी सामने नहीं आ पाई है कि आखिर सचिन पायलट और जोशी के बीच में किन-किन मसलों पर बातचीत हुई. यहां बताना जरूरी है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री पद की रेस के दावेदारों में सीपी जोशी का भी नाम है. इससे पहले सचिन पायलट दिल्ली में सोनिया गांधी और राहुल गांधी से मिलने के बाद शुक्रवार दोपहर बाद जयपुर पहुंचे थे.

सीपी जोशी से मिले पायलट
जब सचिन पायलट विधानसभा में अध्यक्ष जोशी से उनके कक्ष में मिले थे, तब उस समय कई और वरिष्ठ विधायक भी वहां मौजूद थे. कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष जोशी 2008 में मुख्‍यमंत्री पद की दौड़ में थे लेकिन तब वह विधानसभा चुनाव एक वोट से हार गए थे. अशोक गहलोत द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए पर्चा भरने की औपचारिक घोषणा के बाद जयपुर में राजनीतिक सुगबुगाहट अचानक तेज हो गई, जहां विधानसभा का सत्र आयोजित किया जा रहा है. तीन दिन बाहर रहकर गहलोत शुक्रवार शाम कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के साथ जयपुर लौटे. वे हवाई अड्डे से सीधे मुख्यमंत्री आवास चले गए.

कब है कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव
कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए घोषित कार्यक्रम के अनुसार, अधिसूचना 22 सितंबर को जारी हुई है और नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया 24 से 30 सितंबर तक चलेगी. नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि आठ अक्टूबर है. आवश्यक होने पर 17 अक्टूबर को मतदान होगा और नतीजे 19 अक्टूबर को घोषित किये जाएंगे. माना जा रहा है कि मुकाबला अशोक गहलोत और शशि थरूर के बीच होगी.

Tags: Ashok gehlot, Congress, Rajasthan news, Sachin pilot



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments