Tuesday, August 9, 2022
Homeदेशजिनके यहां से आएंगे 'अग्निवीर', उनके घर में होंगे शिवााजी: सीआर पाटिल

जिनके यहां से आएंगे ‘अग्निवीर’, उनके घर में होंगे शिवााजी: सीआर पाटिल


वडोदरा. पिछले दिनों देश के कुछ राज्यों में अग्निपथ स्कीम को लेकर विरोध प्रदर्शन हुए थे. लेकिन अब इस योजना को लॉन्च कर दिया गया है. अग्निवीरों की भर्ती प्रकिया भी शुरू हो गई है. विपक्ष के कई नेता अब भी इस स्कीम की आलोचना कर रहे हैं. इस बीच गुजरात में बीजेपी के अध्यक्ष सीआर पाटिल ने अग्निपथ योजना की जम कर तारीफ की है. उन्होंने कहा कि जिनके यहां से ‘अग्निवीर’ आएंगे उनके घर में शिवााजी होंगे. पाटिल ने ये बातें वडोदरा चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (वीसीसीआई) द्वारा आयोजित विश्व एमएसएमई दिवस समारोह के दौरान कही.

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक पाटिल ने अग्निपथ भर्ती योजना के खिलाफ चल रहे विरोध को ‘युवाओं को गुमराह करने का प्रयास’ करार दिया. इस मौके पर उन्होंने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को संबोधित वीसीसीआई के एक पत्र को भी स्वीकार किया.

अग्निवीर देश की बड़ी ताकत
इस मौके पर पाटिल ने कहा, ‘ऐसे कई लोग हैं जो अग्निपथ योजना में परेशानी पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं. देश में कई राजनीतिक दल गैर-जिम्मेदाराना व्यवहार कर रहे हैं. दुश्मन देशों से बाहरी आक्रमण की स्थिति में अग्निवीर देश के लिए एक बड़ी ताकत साबित होंगे. जिन घरों में अग्निवीर होंगे उनमें शिवाजी होंगे. यह योजना देश के लिए है और देश में आंतरिक सुरक्षा बढ़ाने के लिए है.’

वीसीसीआई ने किया समर्थन
13 औद्योगिक संगठनों द्वारा समर्थित वीसीसीआई ने पाटिल को एक पत्र सौंपा, जिसमें पीएम मोदी को संबोधित किया गया था. इसमें अग्निपथ योजना का समर्थन किया गया. पत्र में कहा गया है, ‘युवाओं के उज्ज्वल भविष्य को सुनिश्चित करने के लिए, एमएसएमई अग्निपथ योजना में चार साल की सेवा के बाद लौटने वालों को नौकरी प्रदान करेंगे. इससे देश के वित्तीय विकास में भी मदद मिलेगी.’

मिलेगा रोज़गार
पाटिल ने आगे कहा, ‘वीसीसीआई और अन्य 14 संघों ने स्वेच्छा से अग्निपथ मिशन का समर्थन करते हुए यह आश्वासन दिया है कि वे उन अग्निपथों को रोजगार प्रदान करेंगे, जो देश की सेवा में चार साल देने के बाद लौटते हैं. यह एक अच्छा कदम है.’

 युवाओं को गुमराह करने की कोशिश
कार्यक्रम में ‘रिस्पांस ऑफ वीसीसीआई टू अग्निपथ’ शीर्षक से प्रस्तुत एक प्रस्तुति में कहा गया कि अग्निपथ योजना के बारे में युवाओं को गुमराह किया जा रहा है. पाटिल ने ‘मेक इन गुजरात’ नाम से वीसीसीआई का वेब पोर्टल भी लॉन्च किया.

Tags: Agnipath scheme, Agniveer



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments