मुंबईः टैक्सी में छूट गया 15 लाख रुपये कैश, पुलिस ने ड्राइवर को ढूंढकर लौटाए पैसे – colaba police kenya women forget 15 lakh cash in taxi – News18 हिंदी

0
18


मुंबई. केन्या की दो महिलाओं से कोलाबा में टैक्सी में गलती से छूट गए 15 लाख रुपये मुंबई पुलिस की मदद से उन्हें वापस मिल गए हैं. एक अधिकारी ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी. कोलाबा थाने के अधिकारी ने बताया कि दोनों महिला कामकाज के सिलसिले में दक्षिण मुंबई आयी थीं और यात्रा के दौरान गलती से उनके 15 लाख रुपये टैक्सी में छूट गए. टैक्सी से उतरने के बाद उन्हें अपनी गलती का एहसास हुआ और उन्होंने तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी.

अधिकारी ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज की मदद से पुलिस ने टैक्सी का रजीस्ट्रेशन नंबर पता किया और उसके चालक को कालबादेवी से खोज निकाला और रुपयों से भरा बैग बरामद कर लिया. उन्होंने बताया कि रुपयों सहित बैग महिलाओं को लौटा दिया गया है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक केन्याई महिला, 43 वर्षीय डेका मोहम्मद अजीज और 43 वर्षीय होडन जेमक मुरसाई कुछ कपड़े खरीदने के लिए कोलाबा आई थीं. मस्जिद बंदर के एक होटल में ठहरी ये महिलाएं रात करीब 8 बजे कोलाबा मार्केट में कैब से उतरीं.

हालांकि, नीचे उतरने के बाद उन्हें अहसास हुआ कि वे अपना बैग कैब में ही भूल गई हैं. कोलाबा पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक विजय हतिस्कर ने कहा, “महिलाओं ने थोड़ी देर के लिए कैब के बारे में पूछताछ की. बाद में, उन्होंने रात करीब 9 बजे पुलिस से संपर्क किया.” पुलिस ने तुरंत कैब चालक की तलाश शुरू की.

सीसीटीवी कैमरे के फुटेज की जांच के लिए कई टीमों का गठन किया गया था. सहायक निरीक्षक ज्ञानेश्वर खांडेकर और सब-इंस्पेक्टर विशाल जाधव के नेतृत्व वाली एक टीम जिसमें कॉन्स्टेबल विजय भोर, हनुमंत नलवाडे और सरजेराई कांबले शामिल थे, उन्होंने सुबह 4 बजे टैक्सी का पता लगाया. टैक्सी चालक की पहचान त्रिभुवन गौड़ के रूप में हुई है, उसने शुरू में बैग के बारे में कोई जानकारी होने से इनकार किया.

हालांकि, पुलिस ने ड्राइवर को महिलाओं के टैक्सी से उतरते हुए फुटेज दिखाया. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया, “गौड़ ने स्वीकार किया कि उसके पास बैग था और उसने उसे वापस कर दिया. मंगलवार को डीसीपी जोन 1, हरि बालाजी की मौजूदगी में महिलाओं को कैश सौंप दिया गया.’

Tags: Maharashtra



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here