Thursday, June 30, 2022
Homeदेशलखनऊ: जानिए आखिर क्यों लखनऊ में अचानक से सोने के बिस्किट की...

लखनऊ: जानिए आखिर क्यों लखनऊ में अचानक से सोने के बिस्किट की डिमांड बढ़ गई है


रिपोर्ट:अंजलि सिंह राजपूत

लखनऊ में पिछले 3 महीने के दौरान अचानक से सोने के बिस्किट की डिमांड बढ़ गई है.मध्यम वर्ग यानी मिडिल क्लास के लोग 5 ग्राम और 10 ग्राम के रूप में सोने के बिस्किट को छोटे-छोटे टुकड़ों में अपने पास जमा कर रहै हैं.सोने के बिस्किट जमा करने के पीछे की वजह पर जब News18 Local की टीम ने पड़ताल की तो चौक के सबसे बड़े और पुराने सर्राफा बाजार के कारोबारियों ने इसकी पुष्टि की.सर्राफा कारोबारियों का कहना है कि रूस-यूक्रेन युद्ध और कोरोना महामारी की वजह से लगे लॉकडाउन के बाद लोगों ने आर्थिक तंगी से बिगड़े हालातों को करीब से देखा है.सोने को लोग हमेशा से पूंजी निवेश का बेहतर साधन मानते हैं.इसी वजह से लोग सोने को बिस्किट के रूप में जमा कर रहे हैं.

15 से 20 फ़ीसदी बढ़ी डिमांड
चौक सर्राफा एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष आदिश जैन ने बताया कि पिछले 3 महीनों के दौरान अचानक से सोने के बिस्किट की जो मांग है वह 15 से 20 फीसदी तक बढ़ गई है.इसकी वजह यह है कि लोगों ने कोरोना लॉकडाउन को देखा है जिसमें लोगों की नौकरियां चली गई थीं. ऐसे में लोगों ने सोना बेच कर लंबे वक्त तक अपना घर चलाया है.इसके अलावा उन्होंने रूस और यूक्रेन का युद्ध में भी लोगों ने जब पलायन किया तो उनके पास जमा पूंजी के रूप में सोना ही था.क्योंकि लोग इसे सुरक्षित निवेश मानते हैं.मिडिल क्लास और उससे छोटा वर्ग भी सोने को अपने वेतन के हिसाब से खरीद कर जमा कर रहा है.चौक सर्राफा एसोसिएशन के अध्यक्ष कैलाश चंद जैन सर्राफ ने बताया कि लोगों में अचानक से सोने के टुकड़ों और सोने के बिस्किट और सोने के सिक्कों को जमा करने की भावना बढ़ गई है,क्योंकि हमेशा से ही सोना डिमांड में रहा है.सोना बेचने में कोई नुकसान नहीं होता है.सोना बेचने पर अगर सोने के दाम बढ़े हैं तो बढ़े हुए दामों पर मिलेगा घटे हैं तो घटे हुए दामों पर ही मिलेगा.ऐसे में फायदा ग्राहकों का ही होता है.

सुरक्षित निवेश है सोना
चौक सर्राफा एसोसिएशन के महामंत्री विनोद महेश्वरी ने बताया कि सोना एक सुरक्षित निवेश है, मुसीबत में कुछ और काम आए या ना आए सोना चांदी हमेशा काम आता है.जिसे तुरंत बेचकर कैश लिया जा सकता है और अपनी जरूरतों को पूरा किया जा सकता है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |

FIRST PUBLISHED : June 07, 2022, 15:32 IST



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments