Saturday, June 25, 2022
Homeदेशहिमाचलः दिवंगत पति वीरभद्र सिंह की याद में भावुक हुई कांग्रेस अध्यक्ष...

हिमाचलः दिवंगत पति वीरभद्र सिंह की याद में भावुक हुई कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा सिंह, नहीं दे पाई भाषण


शिमला. हिमाचल प्रदेश के 6 बार मुख्यमंत्री रहे दिवंगत वीरभद्र सिंह की राजधानी शिमला के ऐतिहासिक रिज मैदान पर आदमकद मूर्ति लगाई जाएगी. वीरभद्र सिंह की पहली जयंती पर नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने ये ऐलान किया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार बदलते ही रिज मैदान पर उनकी प्रतिमा लगाई जाएगी. कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित एक सभा में दिवंगत मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की पत्नी और कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष प्रतिभा सिंह भावुक हो गईं और भाषण नहीं दे पाई.

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने भी वीरभद्र सिंह को श्रद्धांजलि दी. राहुल गांधी ने फेसबुक पर लिखा, ‘देवभूमि हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता श्री वीरभद्र सिंह जी की जयंती पर उन्हें सादर नमन’

हिमाचल कांग्रेस वीरभद्र सिंह की जयंती को विकास दिवस के रूप में मना रही है. गुरुवार को शिमला में कांग्रेस मुख्यालय में पूर्व मुख्यमंत्री स्व वीरभद्र सिंह को श्रद्धांजलि दी गई. राजीव भवन में प्रदेश अध्यक्ष प्रतिभा सिंह की अध्यक्षता में एक सभा का आयोजन किया गया. इस सभा में नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, विधायक विक्रमादित्य सिंह, कार्यकारी अध्यक्ष हर्ष महाजन समेत अन्य नेताओं और कार्यकर्ताओं ने वीरभद्र सिंह की तस्वीर पर श्रद्धासुमन अर्पित किए.

प्रदेशभर में भी वीरभद्र सिंह को याद किया गया और भाव पूर्ण श्रदांजलि दी गई. हिमाचल कांग्रेस के सभी संगठनात्मक जिलों और ब्लॉकों में भारी संख्या में पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओ सहित आम लोगों ने अपनी नम आंखों से  वीरभद्र सिंह के छायाचित्र पर  श्रद्धासुमन अर्पित किए. कांग्रेस नेताओं ने प्रदेश के विकास में वीरभद्र सिंह के उल्लेखनीय योगदान के प्रति आभार व्यक्त किया. प्रदेशभर में कांग्रेस नेताओं और पदाधिकारियों ने अस्पतालों में जाकर रोगियों को फल  वितरित किए. वीरभद्र सिंह के सम्मान में कई स्थानों पर रक्तदान शिविरों का  आयोजन भी किया गया.

शिमला में कांग्रेस मुख्यालय में प्रतिभा सिंह श्रद्धांजलि के लिए आयोजित कार्यक्रम में भावुक हो गईं. इस दौरान वे अपना भाषण भी नही दें पाईं. उन्होंने सभा मे उपस्थित सभी नेताओं,पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं का हाथ जोड़ कर धन्यवाद किया और अभिनंदन किया, वे केवल इतना कह पाईं कि जो प्यार और स्नेह उन्हें सब लोगों से मिल रहा है उसका कर्ज वह कभी नही लौटा पाएंगी. नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने सभा को सम्बोधित करते हुए स्व वीरभद्र सिंह के स्मरणों को याद करते हुए कहा कि यह पहला अवसर है, जब हम वीरभद्र सिंह का जन्मदिन उनके बगैर मना रहे हैं.

उन्होंने कहा कि प्रदेश के दो ही ऐसे महान नेता हुए, एक डॉ. यशवंत सिंह परमार और  दूसरे वीरभद्र, जिन्हें प्रदेश के इतिहास में हमेशा याद रखा जाएगा. उन्होंने कहा कि प्रदेश को एक माला में भावनात्मक रूप से जोड़ने का काम वीरभद्र सिंह ने किया. नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि वीरभद्र सिंह की सादगी और कार्य की क्षमता बहुत ही प्रभावी थी. उन्होंने वीरभद्र सिंह को युग पुरुष बताया. साथ ही पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं से अपील की कि उन्हें अपने नेतृत्व को मजबूत करते हुए वीरभद्र सिंह के दिखाए रास्ते पर चलते हुए आपसी भाईचारे को मजबूत करना है. उन्होंने कहा कि हालात बदलेगे, और सरकार भी बदेलगी,यह निश्चित है.

क्या बोले विक्रमादित्य सिंह

वीरभद्र सिंह के पुत्र और शिमला ग्रामीण से विधायक विक्रमादित्य सिंह ने अपने सम्बोधन में सभा मे उपस्थित सभी लोगों का आभार व्यक्त किया. उन्होंने कहा कि आज का दिन स्वर्णिम दिवस है जिसे उत्सव के तौर पर मनाया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि वीरभद्र सिंह ने कभी भी क्षेत्रवाद की राजनीति नही की. वे पूरे प्रदेश को अपना घर मानते थे और सभी को अपने परिवार का सदस्य मानते थे. विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि आज का दिन विकास दिवस के तौर पर मनाया जाना स्व. वीरभद्र सिंह के लिए प्रदेश्वसियों की एक सच्ची श्रद्धांजलि है. उन्होंने कहा कि वीरभद्र सिंह भले ही अब हमारे बीच नहीं है, पर उनका पथ प्रदर्शन आज भी हमारा मार्ग प्रशस्त कर रहा है, उनका बेटा होने के नाते मेरा फर्ज है कि उनके दिखाए मार्ग पर चलूं और प्रदेश के विकास के लिए कार्य करूं.

Tags: Himachal, Himachal Police, Himachal Politics, Shimla News



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments