‘4G-5G से कहीं बड़े हैं माताG और पिताG’, मुकेश अंबानी की युवाओं को नसीहत – mataji and pitaji are bigger than 4g 5g mukesh ambanis advice to the youth – News18 हिंदी

0
25


हाइलाइट्स

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने दी नसीहत
पंडित दीनदयाल एनर्जी यूनिवर्सिटी के 10वें दीक्षांत समारोह को किया संबोधित
भारत दुनिया की तीन शीर्ष अर्थव्यवस्थाओं में शामिल हो जाएगा

नई दिल्ली. रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने युवाओं को नसीहत देते हुए कहा कि इस दुनिया में माता जी और पिता जी से बड़ा कोई ‘जी’ नहीं है. युवाओं को माता-पिता के संघर्ष और त्‍याग को नहीं भूलना चाहिए. वे पंडित दीनदयाल एनर्जी यूनिवर्सिटी के 10वें दीक्षांत समारोह को संबोधित कर रहे थे. उन्‍होंने कहा कि 2047 तक भारत 40 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनमी बन जाएगा और दुनिया की तीन टॉप इकॉनमी में शामिल होगा.

मुकेश अंबानी ने कहा कि क्लीन एनर्जी रिवोल्यूशन, बायो एनर्जी रिवोल्यूशन और डिजिटल रिवोल्यूशन आने वाले वर्षों में भारत की आर्थिक प्रगति के लिए गेम चेंजर साबित होंगे. कंपनी रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने भारत के टेलिकॉम सेक्टर में 4जी और 5जी की शुरुआत की थी, जिससे देश में डेटा की खपत में कई गुना बढ़ोतरी हुई है. मुकेश अंबानी ने कहा कि यह बैच ऐसे साल में ग्रेजुएट हो रहा है जब भारत के अमृत काल की शुरुआत हो रही है. हमारी परंपरा में अमृत काल को किसी भी नए काम की शुरुआत के लिए शुभ माना जाता है. अमृत काल में भारत में अभूतपूर्व आर्थिक विकास देखने को मिलेगा और अवसरों की बाढ़ आ जाएगी.

भारत की इकाेनाॅमी 2047 तक 40 ट्रिलियन डॉलर पहुंच जाएगी

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन (Chairman of Reliance Industries Limited) व प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने कहा कि युवाओं को यह याद रखना चाहिए कि सफलता में माता-पिता का भी योगदान है. उन्‍होंने इस दिन का बेसब्री से इंतजार किया है. यह उनका जीवनभर का सपना रहा है. आज के युवा 4जी और 5जी को लेकर उत्साहित हैं लेकिन माताजी और पिताजी से बड़ा कोई ‘जी’ नहीं है.    उन्‍होंने कहा कि अभी भारत की इकाेनाॅमी तीन ट्रिलियन डॉलर की है जो 2047 तक 40 ट्रिलियन डॉलर पहुंच जाएगी. इस तरह भारत दुनिया की तीन शीर्ष अर्थव्यवस्थाओं में शामिल हो जाएगा. उन्‍होंने कहा कि क्लीन एनर्जी रिवोल्यूशन और बायो-एनर्जी रिवोल्यूशन से सस्टेनेबल एनर्जी मिलेगी जबकि डिजिटल रिवोल्यूशन से हमें एनर्जी को सुगम तरीके से कंज्यूम करने में मदद मिलेगी.

(डिस्क्लेमर: नेटवर्क 18 मीडिया एंड इनवेस्टमेंट लिमिटेड पर इंडिपेंडेंट मीडिया ट्रस्ट का मालिकाना हक है. इसकी बेनफिशियरी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज है.)

Tags: Mukesh ambani, Reliance industries



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here